Home यूनाइटेड स्टेट्स यहाँ रहने वाले प्रवासियों के दिल में बैठा खौफ़

यहाँ रहने वाले प्रवासियों के दिल में बैठा खौफ़

शासन विशेषज्ञओ ने यहाँ पर प्रवासी नागरिको के बीच डर पैदा हो गया हैं. अमेरिका में ओबामा शासन के ख़त्म होने के साथ ही ट्रम्प के युग की शुरुआत होने जा रही हैं. ऐसे समय ऊपर ओबामा के प्रशासन में सहायक सचिव के पद पर नियुक्‍त निशा देसाई का कहना है कि डोनाल्ड ट्रंप की नीतियों के कारण देश के प्रवासियों में भय पाया गया है.

उनका कहना हैं कि डोनाल्ड ट्रम्प कि नीतियों को लेकर देश में रहने वाले प्रवासी काफी डरे सहमें हैं. देसाई के अनुसार इन प्रवासियों का कहना हैं कि ट्रम्प के सत्ता सँभालने के बाद वो अमेरिका में नहीं रह पाएंगे. निशा का कहना है कि अमरीका को छोड़ने का डर न सिर्फ प्रवासियों में बल्कि अल्पसंख्यकों में भी बना हुआ है.

भारतीय मूल की ओबामा शासन में सहायक सचिव देसाई ने कहा कि ट्रंप की जीत से डरी मेरी खुद की बेटियों ने एक बार यह सवाल करके उन्हें चौंका दिया कि क्या ट्रंप के राष्ट्रपति बनने के बाद उन्हें भी अमरीका छोड़कर जाना होगा? निशा देसाई ने कहा कि ट्रंप की भावी नीति को लेकर छाए डर के अनुभव को उन्होंने खुद अपने घर में परिवार के बीच महसूस किया है.

उल्लेखनीय हैं प्रवासियों के मध्य इस डर की वजह टर्म द्वारा खुले मंच दिए गए भाषण हैं. जिसमे उन्होंने साफ़ किया था कि प्रवासियों के लिए उनकी नीतिया काफी सख्त होगी. फ़िलहाल ओबामा शासन को बस एक दिन और रह गया हैं. ट्रम्प 20 जनवरी को 45वे अमेरिकी राष्ट्रपति के लिए शपत लगे.