Home अरब देश मिस्र के इस धर्मगुरु ने किया इमाम महंदी होने का दावा, विश्व...

मिस्र के इस धर्मगुरु ने किया इमाम महंदी होने का दावा, विश्व भर में मचा बवाल

मिस्र के एक प्रसिद्ध टेलीविज़न धर्मोपदेशक ने ‘इमाम महंदी’ होने का दावा किया हैं. मोहम्मद अब्दुल्ला अल नस्र जोकि शेख़ मिज़ो के नाम से मशहूर हैं, उनके इस ऐलान के बाद सरकारी अधिकारी उनकी गिरफ़्तारी की और मनोचिकित्सक जांच की मांग कर रहे हैं.

अधिकतर मुस्लिम धर्मगुरु शेख़ इस ऐलान पर चिल्ला रहे हैं तो वही कुछ ने शेख़ इस घोषणा की सराहना भी की हैं. ज़्यादातर लोग मोहम्मद अब्दुल्ला अल नस्र के खिलाफ हैं.

अब्दुल्ला ने कहा कि “इमाम महंदी को मोहम्मद बिन अब्दुल्ला कहा जाता हैं और वास्तव में मेरा नाम मोहम्मद बिन अब्दुल्ला हैं.”

शेख़ मिज़ो अपने फेसबुक पेज पर लिखते हैं कि मैं घोषित करता हूँ कि मैं इमाम महंदी हूँ, मोहम्मद बिन अब्दुल्ला ने भविष्यवाणी के बारे में मुझे बताया गया था. मैं यहाँ न्यायपूर्ण शासन करने आया हूँ, और मैं सुन्नी, शिया और सभी समुदाय के लोगो से आग्रह करता हूँ कि मेरे आदेशो का पालन करो. उन्होंने कहा कि सुन्नी, शिया और सभी समुदाय के लोगो को मेरे आदेशो का पालन करना ज़रूरी हैं.

मैं उम्मीद करता हूँ कि यह सच हैं. ये बहुत सी लड़ाइयों को रोक सकता हैं. मैं यह भी जानता हूँ कि इसके बाद कई सवाल खड़े किये जायेगे.

जबकि, इस घोषणा से पहले इन्होंने अल-अज़हर की विचारधारा को आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट की विचारधारा के सामान बताया था जिसके बाद इनको कठिनाइयों का सामना भी करना पड़ा था.

वैसे इस दावे में सच्चाई है या नही वर्ल्ड न्यूज़ अरेबिया इसकी ज़िम्मेदारी नही लेता लेकिन हम यहाँ आपको वो निशानियाँ बता रहे है जो इमाम मेहँदी से सम्बंधित होंगी.

1- ईमाम मेंहदी खुद ईमाम होने का दावा नही करेंगे बल्कि अचानक आप मक्क-ए-मोज़्ज़मा में रुक्न व मक़ाम से बरामद होंगे।………(क़ियामत नामा, शाह रफ़ी उद्दीन देहलवी)

2- उनके हाथ में हज़रत सुलेमान अलैहिस्सलाम की अंगूठी और हज़रत मूसा अलैहिस्सलाम का असा होगा।

3-शिया व सुन्नी दोनों मज़हबों के उलमा का कहना है कि आप क़रआ नामी क़रिये से रवाना होकर मक्क -ए- मोज़्ज़मा में ज़हूर फ़रमायेंगे।…………(ग़ायत उल मक़सूद पेज न. 165 व नूर उल अबसार पेज न. 154)

Web-Title: An Egyptian preacher claim to be Imam Mahdi

Key-Words: Imam Mahdi, Cleric, Egypt, Preacher, claim