source: Saudi Gazette

जेद्दाह – सेक्रेटरी जनरल ऑफ द अथॉरिटी ऑफ द चार्टर्ड एकाउंटेंट्स (एसीए) अहमद अल-मिगमासी ने एक खुलासा किया है जिससे आपका हैरान होन तो लाज़मी है. चार्टर्ड अकाउंटेंट्स के मुताबिक, सऊदी बैंकों में 167,000 प्रवासी  बैंक अकाउंटेंट्स काम कर रहें  है, जबकि सिर्फ 4,800 सऊदी अकाउंटेंट्स है.

मंगलवार को जेद्दाह चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (जेसीसीआईआई) द्वारा आयोजित एक बैठक के दौरान इस बात का खुलासा किया है. मिगमासी ने कहा कि वर्तमान में सऊदी में सऊदीकरण करने के लिए श्रम और सामाजिक विकास मंत्रालय के साथ संपर्क बनाए जा रहे हैं.

अब इन प्रवासियों की भर्ती बंद

उन्होंने कहा की धीरे-धीरे अब प्रवासियों की अकाउंटेंट्स में भर्ती बंद होगी अब सिर्फ इस क्षेत्र में काम वही प्रवासी कर सकेंगे जिन्हें तीन से ज्यादा सालों का अनुभव होगा, उससे कम एक्सपीरियंस वाले प्रवासियों को निकाल दिया जाएगा.

चैंबर में चार्टर्ड एकाउंटेंट की समिति के अध्यक्ष यासर बालखी और जेसीसीआई के उपाध्यक्ष माँज़ेन बैतरजी ने बैठक में भाग लिया.

इस कार्यक्रम में भाग लेने वाले कई अकाउंटेंट्स ने सवाल उठाया कि क्यों वाणिज्यिक बैंकों को अकाउंटेंसी कार्यालयों को विभाजित करने की इजाज़त क्यों दी जा रही है. उन्होंने कहा कि अकाउंटेंट्स कार्यालयों का विभाजन प्राधिकारी को करना चाहिए, ना कि बैंकों को.

न्यूज़ अरेबिया एकमात्र न्यूज़ पोर्टल है जो अरब देशों में रह रहे भारतीयों से सम्बंधित हर एक खबर आप तक पहुंचाता है इसे अधिक बेहतर बनाने के लिए डोनेट करें
डोनेशन देने से पहले इस link पर क्लिक करके पढ़ें Click Here

वर्ल्ड न्यूज़ अरेबिया का यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें :-


आज की पसंदीदा ख़बरें
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here