Home अरब देश सऊदी अरब में काम करने वाले विदेशी श्रमिकों के लिए बड़ी खबर

सऊदी अरब में काम करने वाले विदेशी श्रमिकों के लिए बड़ी खबर

सऊदी अरब सरकार ने विदेशी श्रमिकों (foreign workers) पर प्रतिबन्ध और कड़े करने की योजना बनायी है. सरकारी सूत्रों ने बताया कि सऊदी सरकार ने सऊदी अरब में सऊदी नागरिकों में बेरोजगारी कम करने और सऊदी कंपनियों को सऊदी लोगों को काम पर रखने के लिए प्रेरित करने की ओर एक बड़ा कदम उठाया है.

ये नयी नीति सऊदी सरकार के गत वर्ष शुरू किये गए सऊदी अरब में बेरोजगारी कम करने के आर्थिक सुधार के लक्ष्य को मौजूदा बेरोजगारी दर 12.1 प्रतिशत से 2020 तक 9 प्रतिशत तक ले जाने के लिए बनायी गयी है.

लेकिन इस नीति में सख्ती से सऊदी अरब की अर्थव्यवस्था के अन्य बड़े हिस्सों जैसे निजी क्षेत्रों में बढ़ोत्तरी और तेल से अलग अर्थव्यवस्था पर असर डालने वाले कारक प्रभावित होंगे. इन क्षेत्रों में मंदी से सऊदी अर्थव्यवस्था पर नकारात्मक असर पड़ेगा.

और पढ़ें: सऊदी अरब में भारतीय प्रवासियों के लिए है बड़ी खबर

नए नियम बड़ी संख्या में लोगों को प्रभावित कर सकते हैं. सऊदी अरब में तकरीबन 12 करोड़ बाहरी लोग काम करते हैं. करीब 20 करोड़ सऊदी नागरिकों द्वारा नकारे गए कम वेतन वाले और खतरे वाले कामों को बाहरी लोग ही कर रहे हैं. लगभग दो तिहाई सऊदी नागरिक सार्वजनिक क्षेत्रों में काम कर रहे हैं.

2011 में निताक़त नाम से लांच किये गए कार्यक्रम के तहत सऊदी श्रम मंत्रालय सऊदी कंपनियों को, उन में काम करने वाले सऊदी कर्मचारियों के आधार पर ग्रेड देता है. बेहतर अनुपात वाली कंपनियों को लाइसेंस या श्रमिकों के लिए वीज़ा देने में प्राथमिकता दी जाती है, वहीँ निम्न अनुपात्र वाली कंपनियों को दंड भी भरना पड़ता है.

एक नयी नीति के तहत 500 से 2,999 कार्मिकों वाली कंपनियों में सभी उच्च पदों पर 100 फ़ीसदी सऊदी नागरिकों की भर्ती करने पर कंपनी को ‘प्लैटिनम’ श्रेणी में रखा जायेगा. अगर कंपनी में सऊदी कार्मिकों का प्रतिशत 10 तक रहता है तो उन्हें ‘निचली हरी’ श्रेणी में रखा जायेगा. खुदरा क्षेत्र में, एक बड़ी कंपनी की वर्तमान प्रतिशत प्लैटिनम के लिए 35 प्रतिशत और निचले हरे रंग के लिए 24 प्रतिशत है.

ये नीति अन्य कई क्षेत्रों के लिए भी कड़ी की जाएगी. इसके अनुसार 60 से अधिक उद्योगों पर प्रतिबन्ध लागू किया जायेगा. कई नागरिक अब खुदरा दुकानों में कैशियर और बिक्री वाले लोगों के रूप में काम कर रहे हैं.

सूत्रों ने बताया कि इस सख्त नीति को श्रम मंत्री अली बिन नासर अल-घफिस ने मंजूरी दे दी है. एक स्रोत ने बताया कि यह 3 सितंबर को प्रभावी होने के लिए निर्धारित है,  क्योंकि इसका आधिकारिक घोषणा अभी तक नहीं की गयी है.

web title – Big news for foreign workers working in Saudi Arabia

paragraph – The Saudi Arab government has planned to ban foreign workers and tighten. Official sources said that the Saudi government has taken a major step in Saudi Arabia to reduce unemployment in Saudi Arabia and motivate Saudi companies to hire Saudi people.