Home अरब देश अमेरिकी दबाव में आकर सऊदी कर रहा एशियाई देशों में ज़्यादा तेल...

अमेरिकी दबाव में आकर सऊदी कर रहा एशियाई देशों में ज़्यादा तेल की पेशकश

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प के कहने पर सऊदी अरब ओपेक (ऑर्गनाइजेशन ऑफ द पेट्रोलियम एक्सपोर्टिंग कंट्रीज) द्वारा तेल आपूर्ति में कमी और कीमतों में तेजी ना आने देने पर काम कर रहा है. मिडिल ईस्ट भारत सहित एशिया के कुछ देशों को ज्यादा क्रूड ऑयल की पेशकश कर रहा है. ताकि यह देश ईरान से तेल खरीदने की बजाए सऊदी से तेल खरीदें.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, ओपेक नेता वास्तव में अपने सहयोगियों के साथ रेकॉर्ड ऑयल आउटपुट की प्लानिंग कर रहे हैं. ऑर्गनाइजेशन ऑफ द पेट्रोलियम एक्पोर्टिंग कंट्रीज (ओपेक) पर ट्रंप की तरफ से नवंबर में अमेरिका के मध्यवर्ती चुनाव से पहले ज्यादा प्रोडक्शन का दबाव है. ऐसे में सउदी ने भारत जैसे कुछ कस्टमर देशों ने चेतावनी दी है कि ज्यादा कीमत की वजह से डिमांड में कमी आ सकती है.

वहीँ चीन में, यूनीपेक (चीन की सबसे बड़े रिफाइनर की ट्रेडिंग यूनिट) ने सऊदी द्वारा ज्यादा मूल्य निर्धारण का हवाला देते हुए खरीदारी में कटौती की है. सऊदी अरब यह ऑफर ऐसे समय में दे रहा है, जब ईरान पर अमेरिकी प्रतिबंध की वजह से ऑयल कंज्यूमर्स को बड़ी परेशानी आशंका सता रही है. इसी वजह से भारत ने ईरान से तेल आयात में कटौती की है.