Home अरब देश ये हैं कुछ विशेष कारण जिसने सऊदी अरब के बजट को बनाया...

ये हैं कुछ विशेष कारण जिसने सऊदी अरब के बजट को बनाया ख़ास, प्रवासियों को यहाँ करना पड़ेगा मुश्किल का सामना

सऊदी अरब में साल 2017 के बजट की घोषणा चुकी हैं. कई वजहों से ये बजट काफी चर्चा में हैं. विशेष ये हैं कि इस नए बजट में कुछ नए कानूनों और नियमो से इसका शुद्धिकरण किया गया हैं. जहाँ सऊदी नागरिको के लिए रहत के दरवाज़े खोले गए हैं वही प्रवासियों कही कही पर मुश्किलो के सामना भी करना पद सकता हैं.

हालाँकि इस नए बजट को पहले बजट की तुलना में काफी चर्चा मिल रही हैं. ऐसा पहली बार हुआ हैं जब सऊदी अरब के बजट की चर्चा हर एक ज़ुबान पर हैं. इसका प्रमुख कारण ये भी हो सकता हैं कि इसमें जो नए संशोधन किये गए हैं.

सऊदी सरकार पारदर्शिता के सिद्धांतों का पालन और आर्थिक व्यवस्था को मज़बूत बनाने की और कोशिश करेगी. ये बजट इसलिए भी ख़ास हैं क्योकि सऊदी सरकार कुछ नयी परियोजनाएं भी आरम्भ करेगी जिसके माध्यम से सीधा साउदी नागरिको लाभ मिलेगा.

सऊदी सरकार सऊदी नागरिको को सीधे मदद करेगी और ज़रुरतमंद मर्द या औरत को सहायता करेगी. इस नए बजट में कुछ लंबे समय तक होने वाले फायदे के लीयते भी योजनाए शामिल हैं जिसके द्वारा सऊदी नागरिक और निजी क्षेत्र अपनी संपत्ति और प्राथमिक व्यवस्थाओं को सालो के लिए मज़बूत कर सकेंगे.

सऊदी अरब की सरकार का सबसे बड़ा फैसला

इसके अतरिक्त सऊदी अरब की सरकार ने जो सबसे बड़ा फैसला लिया हैं वो ये हैं सऊदी हुकूमत ने टैक्स ना लगाने का फैसला लिया हैं. इस साल सऊदी अरब के नागरिको और प्रवासियों के लिए नए नियम एवं कानून बनाये गए हैं. सऊदी अरब के वित्त मंत्री मोहम्मद जडान ने बताया कि पिछले दस सालो में ऐसा पहली बार हुआ हैं जब सऊदी अरब अनुमानित बजट से कम खर्च करने में सक्षम रहा हैं और और अपेक्षा से अधिक गैर-तेल राजस्व को प्राप्त किया गया हैं.

शुक्रवार को रियाद में एक प्रेस वार्ता के दौरान बजट 2017 के बारे में विस्तृत करते हुए सऊदी सरकार के पारदर्शिता के वादे को बताया. इसके साथ ही एक सबसे हैरान करने वाला निर्णय लिया गया. उन्होंने बताया कि सऊदी सरकार सभी सऊदी नागरिक और निवासियों से कोई भी कर नहीं लेगी.

जबकि, इस नए बजट में प्रवासियों पर नए शुल्क लगाए गए. सऊदी अरब में ड्राइवरों, नौकरानी, ​​नंनै के काम करने वाले प्रवासियों को छोड़कर ये नए शुल्क सभी प्रवासियों पर लागु होगा.

साल 2017 में किसी भी विदेशी कर्मचारी द्वारा प्रायोजित हर व्यक्ति को 100 रियाल का मासिक भुगतान देना होगा. साल 2018 में हर कंपनी में उस विदेशी कर्मचारी को 400 सऊदी रियाल का भुगतान करना होगा जहाँ सऊदी कर्मचारियों की संख्या विदेशी कर्मचारियों की संख्या से काम हो. इसी तरह साल 2019 और 2020 के लिए नए नियम बनाये गए हैं.

प्रवासियों का उठाना पड़ेगी मुश्किल

वर्तमान स्थिति में सऊदी कंपनिया हर विदेशी कर्मचारी के बिहाफ पर हर माह 200 सऊदी रियाल का भुगतान करती हैं. लेकिन ये नियम सिर्फ उन कंपनियों पर लागु हैं जहां प्रवासी मज़दूरों की संख्या सऊदी मज़दूरों से अधिक हैं.

उन सभी कंपनियों में जहां सऊदी और गल्फ देशो के कर्मचारी काम करते हैं, या जहां सऊदी कर्मचारियों की संख्या विदेशी कर्मचारियों से अधिक हैं उनको कर के रूप कम भुगतान करना पड़ेगा.

वर्तमान समय कोई भी सऊदी नागरिक या विदेशी नागरिक कर नहीं भरता हैं, और इस साल भी सरकार ने यही फैसला किया हैं कि किसी से कर नहीं लिया जायेगा लेकिन प्रवासियों के लिए नए नियम बनाये गए हैं.

साल 2017 से प्रवासियों को जुलाई 2017 से प्रति माह 100 रियाल का भुगतान करना होगा.

साल 2018 में सभी प्रवासियों को 200 सऊदी रियाल अदा करने होंगे. उन कंपनियों जहां सऊदी कर्मचारियों की संख्या विदेशी कर्मचारियों की संख्या से कम या बराबर हैं उनको जनवरी से 300 सऊदी रियाल का भुगतान प्रति माह करना होगा, और जिन कंपनियों में सऊदी कर्मचारियों की संख्या से विदेशी कर्मचारी अधिक हो उनको 400 सऊदी रियाल का भुगतान प्रति माह करना होगा.

साल 2019 में प्रवासियों को प्रति माह 300 सऊदी रियाल का भुगतान करना होगा, उन कंपनियों जहां सऊदी कर्मचारियों की संख्या विदेशी कर्मचारियों की संख्या से कम या बराबर हैं उनको जनवरी से 500 सऊदी रियाल का भुगतान प्रति माह करना होगा, और जिन कंपनियों में सऊदी कर्मचारियों की संख्या से विदेशी कर्मचारी अधिक हो उनको 600 सऊदी रियाल का भुगतान प्रति माह करना होगा.

साल 2020 में प्रवासियों को प्रति माह 400 सऊदी रियाल का भुगतान करना होगा, उन कंपनियों जहां सऊदी कर्मचारियों की संख्या विदेशी कर्मचारियों की संख्या से कम या बराबर हैं उनको जनवरी से 700 सऊदी रियाल का भुगतान प्रति माह करना होगा, और जिन कंपनियों में सऊदी कर्मचारियों की संख्या से विदेशी कर्मचारी अधिक हो उनको 800 सऊदी रियाल का भुगतान प्रति माह करना होगा.