जेद्दाह – सऊदी व्यवसायी उम्मीद करते हैं कि महिलाओं के ड्राइविंग पर प्रतिबंध हटाने से महिलाओं के लिए अधिक रोजगार के अवसर पैदा होंगे क्योंकि इस कदम से उनके रोजगार की सुविधा मिलेगी और उनके सामाजिक जीवन पर सकारात्मक असर पड़ेगा.

बिज़नेस वुमन अबीर अल-बलूची ने कहा कि आर्थिक अनुमान बताते हैं कि ड्राइविंग निर्णय अगले 10 वर्षों में 500,000 नौकरी के अवसर पैदा करेगा. “आधिकारिक आंकड़े बताते हैं कि श्रम बाजार में सऊदी महिलाओं की भागीदारी 22 प्रतिशत से अधिक नहीं है. बलूची ने कहा कि सऊदी के विजन 2030 में 2030 तक इसे 30 प्रतिशत तक बढ़ाने की उम्मीद की जा रही है.

दो दिवसीय मंच 20,000 सऊदी महिलाओं को लक्षित करने और एक छत के नीचे एक साथ लाने से महिला ड्राइविंग से संबंधित सभी सेवाएं रविवार को शुरू हुईं. मंच पर विशेषज्ञ उम्मीद करते हैं कि महिला ड्राइविंग पर प्रतिबंध हटने से सालाना 50,000 से अधिक नौकरियां पैदा होंगी.

ब्लूमबर्ग इकॉनमिक्स के मुताबिक इस कदम से सऊदी अरब के इकॉनमिक आउटपुट में 2030 तक 90 अरब डॉलर यानी करीब 6 लाख 16 हजार 200 करोड़ रुपये का इजाफा होगा. यह कमाई सऊदी अरब की दिग्गज सरकारी तेल कंपनी अरमाको के 5 फीसदी शेयरों से 100 अरब डॉलर तक की कमाई के लगभग बराबर होगी. महिलाओं के गाड़ी चलाने पर बैन वाले एकमात्र देश होने की अपनी स्थिति को सऊदी अरब ने पिछले दिनों खत्म कर दिया था. कई महिलाओं को रविवार को राजधानी रियाद की सड़कों पर गाड़ियां चलाते देखा गया. यहां तक की कई महिलाओं को बैन खत्म होने की खुशी में गाड़ियों का काफिला निकालते देखा गया.

न्यूज़ अरेबिया एकमात्र न्यूज़ पोर्टल है जो अरब देशों में रह रहे भारतीयों से सम्बंधित हर एक खबर आप तक पहुंचाता है इसे अधिक बेहतर बनाने के लिए डोनेट करें
डोनेशन देने से पहले इस link पर क्लिक करके पढ़ें Click Here

वर्ल्ड न्यूज़ अरेबिया का यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें :-


आज की पसंदीदा ख़बरें
Loading...

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here