कल सऊदी अरब के किंग सलमान बिन अब्दुलाज़िज़ ने कहा की “फिलिस्तीन मुद्दा अरब देशों की पहली चिंता है और ईस्ट जेरुसलम फिलिस्तीनी राज्य की राजधानी है.

फिलिस्तीन की राजधानी ईस्ट जेरुसलम 

दहरान में अरब लीग की बैठक में अपने उद्घाटन भाषण में किंग सलमान ने कहा की “फिलिस्तीन की चिंता हमारी नंबर एक का मुद्दा है, अरब देशों में फिलिस्तीन की चिंता सबसे पहले हैं, और जब तक फिलिस्तीन के लोग अपने वैध अधिकारों को प्राप्त नहीं कर देते, विशेष रूप से वैश्विक स्तर पर यह स्थापित नहीं कर देते की ईस्ट जेरूसलम फिलिस्तीन की राजधानी है, तब तक यह मुद्दा मुख्य चिंता रहेगी.”

किन सलमान ने साथ ही साथ अमेरिका के जेरुसलम पर लिए निर्णय को भी ख़ारिज किया और भाषण में कहा की “हम जेरुसलम पर अमेरिकी निर्णय को अस्वीकार करते हैं.” हम अंतरराष्ट्रीय सहमती की सराहना करते हैं जो इसे ख़ारिज करते हैं, पूर्वी जेरुसलम फिलिस्तीनी जमीन का हिस्सा है.”

यमन का महत्व 

किंग सलमान ने यमन के लिए संप्रभुता, स्वतंत्रता, सुरक्षा और क्षेत्रीय अखंडता के महत्व को दोहराया, जहां सऊदी अगुआ गठबंधन ईरान के समर्थित हौथी समूह से छुटकारा पाने के प्रयास में अरब दुनिया के सबसे गरीब राष्ट्र को मार रहा है.

उन्होंने कहा की “हम जीसीसी की पहल और इसके कार्यकारी तंत्र के अनुसार यमन के व्यापक राष्ट्रीय वार्ता सम्मेलन और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के संकल्प संख्या 2216 के परिणामों के अनुसार यमन में संकट के राजनीतिक समाधान तक पहुंचने के लिए सभी प्रयासों का समर्थन करते हैं”.

उन्होंने कहा की “हम यमन के विभिन्न क्षेत्रों के लिए मानवीय सहायता देने के लिए सभी साधनों की तैयारी करने के लिए अंतरराष्ट्रीय समुदाय से संपर्क करते हैं.”

राजा ने यमन में हो रहे संकट का कारण हौथी लड़ाकों ओए ईरान को ठहराया. उन्होंने कहा की “हम यमन संकट के उदय और निरंतरता के लिए पूरी तरह से ईरान-समर्थित हौथी लड़ाकों को पकड़ रहे हैं.  उन्होंने अरब देशों के आंतरिक मामलों में ईरान के हस्तक्षेप की आलोचना की.

न्यूज़ अरेबिया एकमात्र न्यूज़ पोर्टल है जो अरब देशों में रह रहे भारतीयों से सम्बंधित हर एक खबर आप तक पहुंचाता है इसे अधिक बेहतर बनाने के लिए डोनेट करें
डोनेशन देने से पहले इस link पर क्लिक करके पढ़ें Click Here

वर्ल्ड न्यूज़ अरेबिया का यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें :-


आज की पसंदीदा ख़बरें
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here