Home अरब देश सऊदी अरब ने कहा, “ईरानी परमाणु साइटों पर हो सख्त नियंत्रण”

सऊदी अरब ने कहा, “ईरानी परमाणु साइटों पर हो सख्त नियंत्रण”

सऊदी अरब और ईरान के बीच तनाव बढ़ता ही जा रहा है. दोनों देश एक दुसरे को परमाणु हथियारों की धमकी देते नज़र आते है. सऊदी अरब ने सोमवार को ईरान में सैन्य परमाणु स्थलों पर नियंत्रण को मजबूत करने और निरीक्षण बढ़ाने के लिए तंत्र खोजने के महत्व को रेखांकित किया.

वियना में संयुक्त राष्ट्र कार्यालय में अंतर्राष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी के गवर्नर्स बोर्ड की एक बैठक को संबोधित करते हुए ऑस्ट्रिया में सऊदी दूतावास में अभिनय चार्ज डी’एफैरेस, राजदूत नाबिल अल-अशरी ने यह मांग की.

सऊदी प्रेस एजेंसी की रिपोर्ट में आईएईए युकिया अमानो के महानिदेशक ने बैठक की अध्यक्षता की.

 

वर्ल्ड न्यूज़ अरेबिया को मिली जानकारी के मुताबिक, सऊदी राजदूत अल -अशरी ने कहा कि निरीक्षणों में उन परमाणु साइटों को शामिल करना चाहिए जो ईरान की अविकसित परमाणु गतिविधियों को पूरा करने और क्षेत्र की सुरक्षा को लक्षित करने की संभावना है.

राजदूत ने बैठक के दौरान सऊदी के खिलाफ ईरानी राजदूत द्वारा लगाए गए आरोपों को भी खारिज कर दिया.

सऊदी ने आईएईए और उसके निरीक्षकों की क्षमता और दक्षता पर राज्य के आत्मविश्वास को खत्म करते हुए कहा, “सऊदी इस क्षेत्र में आतंकवाद का मुकाबला करने के अपने प्रयासों को जारी रखेगा, जिसे ईरान ने उदारता से आतंकवादी विद्रोहियों के माध्यम से समर्थन दिया है.” ईरान के घोषित और अविकसित परमाणु सैन्य कार्यक्रमों की सत्यापन और निगरानी की जानी चाहए क्योंकि इससे ईरान से सऊदी को सबसे बड़ा खतरा है.