Home अरब देश सऊदी धार्मिक पुलिस ने एक महिला को बेरहमी से पीटा, विडियो हुआ...

सऊदी धार्मिक पुलिस ने एक महिला को बेरहमी से पीटा, विडियो हुआ वायरल

सऊदी अरब की धार्मिक पुलिस ने एक महिला पर हमला किया है, जिसका विडियो वायरल हो रहा है. धार्मिक पुलिस के इस शर्मनाक कृत्य से सोशल मीडिया पर धार्मिक पुलिस के खिलाफ आलोचनाएं की जा रही हैं.

क्या था मामला

एक महिला अपने रिटेल स्टोर में बैठी थी, तभी एक सऊदी धार्मिक पुलिस का एक सदस्य महिला को एक रिस्टोर दुकान के अंदर जाने के लिए कहता है , क्योंकि वह बाहर बैठी थी, तो महिला कहती है पुलिस को की “उसे कोई अधिकार नहीं है उसे उस जगह से हटाने का और यह बताने का की वह कहाँ बैठी है.”

एक दुसरे विडियो में महिला को चिल्लाते हुए पाया गया क्योंकि पुलिस का एक सदस्य महिला को बहुत ही ज्यादा बेरहमी से मार रहा था और पुलिस ने महिला का फ़ोन भी जब्त किया.

इस घटना के बाद महिला के भाई ने स्थानीय न्यूज़ चैनल को बताया की “उसकी बहन को हमले के बाद अस्पताल में भर्ती करवाया गया.”

महिला के भाई ने कहा की “उसकी बहन एक रिटेल स्टोर के बहार बैठी थी,जहां वह काम करती थी, तभी धार्मिक पुलिस के सदस्यों की नजर मेरी बहन पर गयी, तो उन्होंने उसे अंदर जाने को कहा तो मेरी बहन ने कहा की जब तक उसका सुपरवाईजर उसे अंदर जाने को नहीं कहता तो वह तब तक अंदर नहीं जाएगी, तो गुस्साए पुलिस ने उसे मारा . इसका विडियो मेरी बहन के साथ काम करने वाली एक सहेली ने बनाया.

उन्होंने मेरी बहन को बाहर घसीटा और उसे लगातर मार रहे थे और उसके नाखुनो को तोड़ने का प्रयास कर रहे थे, मेरी बहन ने मुझे बुलाया, मै घटना के अंत में वहाँ पंहुचा और मैंने देखा की पुलिस वालों ने पहले ही मेरी बहन के खिलाफ रिपोर्ट लिखी थी.

“मैं इस बात से हैरान और उलझन में हूँ की नए नियमों के अनुसार धार्मिक पुलिस सदस्यों के लिए यह कानून कैसे लागू नहीं हो सकते हैं, वे महिला स्टोर में कैसे प्रवेश कर सकते हैं? उन्होंने मेरी बहन को इतनी हिंसा से मारा? हम सभी धार्मिक पुलिस के सदस्य मानते हैं, परन्तु वह ऐसे कैसे किसी को इतना मार सकते हैं.

क्योंकि यह खबर वायरल हुई है तो अधिकारीयों ने इसकी जांच करना शुरू किया

इस वायरल खबर पर कुछ लोगों ने धार्मिक पुलिस के खिलाफ कहा तो कुछ ने धार्मिक पुलिस का साथ दिया और कहा की अच्छा हुआ जो हुआ

राज्य में धार्मिक पुलिस की बदलती भूमिका

 

 

Previous articleसऊदी महिलाओं ने ड्राइविंग लाइसेंस प्राप्त करने के लिए खर्चे 18 करोड़ रुपए
Next articleतवाफ करने वाली भीड़ की निगरानी के लिए आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस का होगा इस्तेमाल