Home एशिया एक लाख मुस्लिम उलमाओं ने दिया आतंकवादियों के खिलाफ फतवा: बांग्लादेश

एक लाख मुस्लिम उलमाओं ने दिया आतंकवादियों के खिलाफ फतवा: बांग्लादेश

बांग्लादेश में तकरीबन 100,000 मुस्लिम्स मौलानाओं ने आतंकी संगठनों के खिलाफ फतवा जारी किया है, ‘जो लोग या संगठन इस्लाम के नाम पर आतंकी गतिविधियों को अंजाम दे रहे हैं वह ‘हराम’ काम को अंजाम दे रहे हैं’. मौलाना फरीद-उद्दीन मसूद.

इस्लामिक स्कॉलर्स आर्गेनाईजेशन, जमीयतुल उलमा बांग्लादेश के चेयरमैन मौलाना फरीद-उद्दीन मसूद ने एक प्रेस कांफ्रेंस कर, इस्लामिक कानून या शरीयत के कानून के लिहाज़ से इस बात का ऐलान किया.

शनिवार को प्रेस कांफ्रेंस में बांग्लादेश की सबसे बड़ी ईदगाह के इमाम मौलाना फरीद-उद्दीन मसूद ने कहा कि “कुछ आतंकवादी और कुछ आतंकी संगठन अपने को जिहादी के तौर पर गलत पहचानते हैं, इस्लाम शांति का धर्म हैं, इस्लाम कभी भी आतंक को सपोर्ट नहीं करता हैं”.

क़ुरआन और हदीस का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि जो लोग इन आतंकियों के मरने पर उनकी जनाज़ों में शिरकत करते हैं वो भी जहन्नम की आग में जलाए जाएंगे और जो इन आतंकवादियों के खिलाफ लड़ते-लड़ते मर जायेगा उनको शहादत का दर्ज हासिल होगा.

मौलाना मसूद के अनुसार, देश के 101,524 मुफ्तियों इस ने फतवे का सपोर्ट करते हुए इसको इस्लामिक कानून के तहत पारित कर दिया हैं.

मौलाना मसूद ने कहा कि, “मानवता की भलाई के लिए शांति का फतवा, नाम के इस फतवे से भले ही आतंकी गतिविधियाँ ना रुके लेकिन इससे देश में बढ़ रही हिन्दू-मुस्लिम हिंसा तो रुकेगी”.

Web-Title: One lakh Muslims passed a fatwa against terrorism

Key-Words: one lakh, Muslim, Bangladesh, clerics, terrorism, Islam