Home एशिया अमेरिकी पत्रिका ने अफगान बलों की जानवरों से की तुलना

अमेरिकी पत्रिका ने अफगान बलों की जानवरों से की तुलना

अमरीकी पत्रिका ” फ़ॉरेन पालीसी” ने लिखा है कि अमरीका द्वारा अफ़ग़ान सुरक्षा बलों की ट्रेनिंग पर 65 अरब डॉलर खर्च करने के बाद भी वह तालिबान का मुकाबला नहीं कर सकते हैं।

इस पत्रिका ने लिखा है कि अफ़ग़ान बलों को प्रणिक्षण देना भेड़ों को उड़ान सिखाने के बराबर है!

जबकि अफ़ग़ानिस्तान के पुनर्निर्माण के लिए अमेरिका के विशेष इंस्पेक्टर «जान स्पको» ने कहा है कि अफ़ग़ानिस्तान के अंदर भ्रष्टाचार में अमरीकी अधिकारियों का भी हाथ है।

इससे पहले भी अफ़ग़ान संसद सदस्यों और अधिकारियों ने यूरोप और अमेरिका द्वारा इस देश में भ्रष्टाचार की खबर दी थी।

अफ़गान संसद सदस्य «रहमान रहमानी» ने कहा है कि अफ़ग़ानिस्तान के दोस्तों के इस देश में आतंकवाद के खिलाफ सहयोग के नारे, केवल एक धोखा हैं।

उन्होंने कहा: विदेशी अफगानिस्तान में आ गए, लेकिन वे इस देश की अर्थव्यवस्था, सुरक्षा के लिए सच्चे नहीं थे, अफ़ग़ान लोगों ने बलिदान दिया है और बदले में उन्हें अस्थिरता और अराजकता मिली है।

अफ़ग़ानिस्तान के पुनर्निर्माण के लिए अमरीका के विशेष इंस्पेक्टर «जान स्पको» ने कहा: संगठित भ्रष्टाचार, अफ़ग़ानिस्तान में अमरीका के मिशन को कमजोर कर रही है, और इस पर सरकार की आपत्ति और उग्रवादी समर्थन के रास्ते खुल रहे हैं।

उन्होंने अमरीका को अफ़ग़ानिस्तान की अर्थव्यवस्था के लिए दसियों अरब डॉलर देने और ठेके पर निगरानी नहीं करने और भ्रष्ट लोगों के साथ सहयोग करने पर अफ़ग़ानिस्तान में भ्रष्टाचार का जिम्मेदार ठहराया।