Home एशिया आर्मी पब्लिक स्कूल ने पूर्व तालिबान प्रवक्ता के खिलाफ पेशावर हाई कोर्ट...

आर्मी पब्लिक स्कूल ने पूर्व तालिबान प्रवक्ता के खिलाफ पेशावर हाई कोर्ट में दर्ज किया मुकदमा

पाकिस्तान में आर्मी पब्लिक स्कूल शोहदा फ़ोरम ने प्रतिबंधित पाकिस्तान तालेबान संगठन के पूर्व प्रवक्ता एहसानुल्लाह एहसान के ख़िलाफ़ पेशावर हाई कोर्ट में रिट पेटीशन दायर कर दी है।

स्कूल पर हुए हमले में मारे जाने वालों के परिजनोंकी मदद के लिए बनाए गए शोहदा फ़ोरम के प्रमुख फ़ज़्ल ख़ान की ओर से दायर की जाने वाली रिट में एहसानुल्लाह एहसान को एपीएस के बच्चों का हत्यारा घोषित करते हुए उसे दंडित किए जाने की मांग की गई है।

रिट पिटीशन में केन्द्र सरकार और ख़ैबर पख़तूनख्वाह सरकार, रक्षा मंत्रालय, मानवाधिकार मंत्रालय, क़ानून मंत्रालय, संसदीय मामलों के मंत्रालय, आईएसआई के डीजी और पाक सेना के जनरह हेड क्वार्टर को पक्ष बनाया गया है। रिट में कहा गया है कि हमले के अगले ही दिन एहसानुल्लाह एहसान ने हमले की ज़िम्मेदारी स्वीकार करते हुए हुए कहा था कि भविष्य में तालेबान की ओर से इसी प्रकार के और भी हमले किए जाएंगे।

याचिका के अनुसार हमले के मुख्य योजनाकार के हथियार डाल देने और गिरफ्तारी के बाद कुछ उम्मीद पैदा हुई है कि हमले में लिप्त अन्य आरोपियों को भी इंसाफ़ के कटहरे में लाया जाएगा लेकिन एहसानुल्लाह एहसान के साथ अपराधियों जैसा बर्ताव नहीं किया जा रहा है और उसे ब्रेन वाश किये गए निर्दोष और अनजान व्यक्ति की तरह पेश किया जा रहा है जिसने आर्मी पब्लिक स्कूल पर हमले तथा आतंकवाद की अन्य घटनाओं की योजनाबंदी अनजाने में कर दी हो।

फ़ोरम के प्रमुख ने अदालत से अपील की है कि वह तत्काल न्याय के लिए एहसानुल्लाह एहसान का मुकद्दमा सैनिक अदालत में चलाए जाने का आदेश दे। ज्ञात रहे कि 16 दिसम्बर 2014 को पेशावर में आर्मी पब्लिक स्कूल पर भयानक हमले में 144 बच्चे और स्टाफ़ के लोग मारे गए थे।