Home एशिया पाकिस्तान में हिन्दुओ की शादी के लिए ये महत्वपूर्ण बिल को मंज़ूरी

पाकिस्तान में हिन्दुओ की शादी के लिए ये महत्वपूर्ण बिल को मंज़ूरी

पाकिस्तान में एक ऐतिहासिक विधेयक या बिल को पारित कर दिया गया हैं जो राष्ट्रपति की मंज़ूरी के बाद अगले हफ्ते तक कानून में तबदील हो जायेगा. हिंदू समुदाय के लिए पहली बार ‘पर्सनल लॉ’ बनने वाला है. इस विधेयक पर 26 सितंबर, 2015 को नेशनल असेंबली की सहमति की मुहर लगी थी.

इस कानून के लागू होने के बाद हिन्दुओ की शादी में काफी मदद होगी. ये कानून पाकिस्तान के पंजाब, बलूचिस्तान ओर खैबर पख्तून-ख्वा में लागू होगा, जबकि सिंध ने पहले से ही अपना हिंदू विवाह कानून बना लिया है.

कानून मंत्री जाहिद हमीद द्वारा संसद में इस विधेयक को प्रस्तुत किया गया और इसपर किसी तरह का विरोध नहीं दर्ज किया गया. भारी बहुमत के साथ 2 जनवरी को मानवाधिकार पर सीनेट की कार्यकारी समिति द्वारा अनुमोदित किया गया था. हालांकि जमात उलेमा ए इस्लाम फज्ल के सीनेटर मुफ्ती अब्दुल सत्तार ने यह कहते हुए विरोध जताया कि संविधान ऐसी चीजों के लिए काफी है.

इस कानून के अनुसार ‘शादी परत’ जैसा कागजात बनेगा जो मुस्लिमों के लिए बनने वाले निकाहनामा के जैसा होगा, इसपर पंडित द्वारा हस्ताक्षर किया जाएगा और संबंधित सरकारी विभाग से रजिस्टर कराया जाएगा.