Home एशिया म्यांमार में बौद्धों का उत्पीड़न जारी, बौद्धों ने निकाली मुस्लमानो के खिलाफ...

म्यांमार में बौद्धों का उत्पीड़न जारी, बौद्धों ने निकाली मुस्लमानो के खिलाफ रैली, लगाये गये मुस्लिम विरोधी नारे

म्यांमार के राखिने स्टेट में रोहिंग्या मुस्लमानो के लिए नफरत बढ़ती जा रही हैं धार्मिक विविधता होने के कारण मुस्लमानो को बौद्धों के अत्याचारों का सामना करना पड़ रहा हैं. जहां पिछले 10 दिनों में बौद्धों ने दो मस्जिदो को जला दिया. वही रविवार को हज़ारो बौद्धों ने मुस्लमानो के खिलाफ जुलूस निकाल कर प्रदर्शन किया.

Screenshot_6इस प्रदर्शन में बौद्धों की आम लोगो के साथ बौद्ध भिक्षुओ ने भी हिस्सा लिया. साल 2012 में हुए सांप्रदायिक तनाव के बाद यहाँ पर मुस्लमानो के लिए रहना दुश्वार हो गया. रिपोर्ट के मुताबिक अब तक यहाँ से 10 लाख रोहिंग्या मुस्लिम बेघर हो चुके हैं. जबकि हज़ारो लोगो की जाने भी जा चुकी हैं.

धार्मिक हिंसा के कारण राखिने स्टेट बहुत प्रभावित हुआ, यहाँ दसियों हज़ार मुस्लमानो को कैंप में शिफ्ट किया गया. राखिने स्टेट के बौद्ध नहीं चाहते है की मुसलमान यहाँ पर रहे, हत्ता कि यहाँ रहने वाले मुस्लमानो को अभी तक देश की नागरिकता तक नहीं दी गयी है. बौद्ध यहाँ के मुस्लमानो को बांग्लादेश से आये प्रवासी मानते है और इनको रोहिंग्या मुस्लिम के नाम से भी आपत्ति हैं.

देश की सरकार ने भी रोहिंग्या शब्द बोलने पर रोक लगा दी हैं, सरकार का कहना है कि इनको अबसे राखिने स्टेट के मुस्लिम समुदाय के नाम से बुलाया जाएगा लेकिन प्रदर्शनकारियों को इससे भी आपत्ति हैं.

प्रदर्शनकारियों के संथापक क्यवत साइन ने कहा कि हम लोग मुस्लिम समुदाय “राखिने स्टेट के मुस्लमान” टर्म को ख़ारिज करते हैं, यहाँ पर मुस्लमानो के खिलाफ तकरीबन 10 हज़ार लोग प्रदर्शन में उतरे हैं. बौद्ध प्रदर्शनकारी मुस्लिमो के खिलाफ नारे लगाते हुए अपने नाजायज़ गुस्से का इज़हार कर रहे हैं, ‘राखिने स्टेट बचाओ’ , बंगालियों को बंगाली कहा जाना चाहिए इस तरह के नारे रैली में लगए जा रहे है.

Web-Title: Buddhist rally against Muslim in Myanmar

Key-Words: Muslims, Myanmar, Rakhine State, Rally, Buddhist,