Home एशिया अफगानिस्तान के लिए अमेरिका से अकेले भी लड़ने को तैयार हामिद करज़ई

अफगानिस्तान के लिए अमेरिका से अकेले भी लड़ने को तैयार हामिद करज़ई

अफ़ग़ानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति हामिद करज़ई ने अमेरिका द्वारा हाल ही में दाइश के नाम पर किये दुनिया के सबसे बड़े गैरपरमाणु बम हमलें को लेकर कहा कि अमेरिका अफ़ग़ानिस्तान पर अत्याचार कर रहा हैं। उन्होंने कहा कि वे अफ़ग़ानिस्तान को अमरीका के अत्याचारों से मुक्ति दिलवाएंगे।

करज़ई ने कहा है कि अपने देश की सुरक्षा के लिए यदि मुझको अकेले ही अमरीका का मुक़ाबला करना पड़े तो मैं ऐसा करूंगा और अफ़ग़ानिस्तान को अमरीकी अत्याचारों से स्वतंत्र कराऊंगा।

उन्होंने कहा कि नंगरहार प्रांत पर अमरीका का हमला, पूरे अफ़ग़ानिस्तान के अपमान के समान है। उन्होंने कहा, देश की जनता को अमरीका के अत्याचारों के मुक़ाबले में उठ खड़ा होना चाहिए।

अफ़ग़ानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति का कहना था कि अमरीका की ओर से देश पर 10 हज़ार किलोग्राम के बम का हमला जहां पर अफ़ग़ान राष्ट्र का अनादर है वहीं पर इसके दुष्प्रभाव वर्षों तक अफ़ग़ानी जनता को भुगतने पड़ेगे।