Home एशिया राजधानी के विस्तार के लिए अज़रबैजान में ढहाई जा रही हैं ऐतिहासिक...

राजधानी के विस्तार के लिए अज़रबैजान में ढहाई जा रही हैं ऐतिहासिक मस्जिदें

इस देश के जाहिरी तौर पर मुस्लिम राष्ट्रपति इलहाम अली उफ़ राजधानी के विस्तार के बहाने इस देश की ऐतिहासिक मस्जिदों और धार्मिक स्थलों को ध्वस्त कर रहे हैं।जबकि आज़रबाईजान के धार्मिक नेता इस काम को संदेह की नजर से देख रहे हैं।

इस देश की कुछ बहुत पुराई और ऐतिहासिक महत्व वाली मस्जिदों को सरकार ने पिछले कुछ सालों में गिरा दिया है जिसमें सूतीस्की (नरीमानाफ) महल्ले की मस्जिद हाजी अब्दुल बेग शामिल है और अब यह सरकार इस देश के मुसलमान कार्यालयों की संदिग्ध चुप्पी के साथ हाजी जव्वाद मस्जिद को ध्वस्त करना चाहती है।

आज़रबाईजान की इस्लामी लोकतांत्रिक पार्टी ने इस विषय पर विरोध प्रकट करते हुए एक घोषणापत्र में इस वर्ष का नाम “इस्लामि एकता” रखे जाने की तरफ़ इशारा करते हुए सरकार द्वारा मस्जिदों को गिराए जाने के कदम को सरकारी नारों और इस साल के नाम के खिलाफ करार दिया है।

उल्लेखनीय है कि यासामाल प्रांत के गवर्नर ने कहा है कि हाजी जव्वाद मस्जिद को गिराने का आदेश कोकेशिया मुसलमानों की संस्थान के प्रमुख अल्लाह शकूर पाशाज़ादे और सरकार की धार्मिक समिति ने दिया है, लेकिन सार्वजनिक विरोध के कारण अब तक यह काम नहीं किया जा सका है, पुलिस ने इस संबंध में कुछ लोगों को गिरफ्तार भी किया है।