Home एशिया भारतीय सेना नहीं कर सकती हैं सोशल मीडिया का इस्तेमाल ?

भारतीय सेना नहीं कर सकती हैं सोशल मीडिया का इस्तेमाल ?

भारत में जम्मू-कश्मीर में तैनात भारतीय सीमा बल (बीएसएफ) के जवान तेज बहादुर के फेसबुक पर विडियो अपलोड करने के बाद बवाल मचा हुआ हैं. विडियो में तेज बहादुर ने जवानों को मिलने वाले खाने की गुणवत्ता को लेकर रौशनी डाली थी जिसके बाद पूरे देश में इस विडियो पर तमाशा खड़ा हो गया.

इस विडियो की कहानी ने अभी ज़ोर पकड़ा ही था कि भारत के सीआरपीएफ़ बल में कार्यरत कॉन्सटेबल जीत सिंह ने फ़ेसबुक और यूट्यूब पर वीडियो डाला, जिसमे दावा किया गया कि सेना और अर्धसैनिक बलों के बीच भेदभाव किया जाता हैं.

कहानी यहाँ भी खत्म नहीं इन दोनों विडियो के वायरल होने के बाद भारतीय सेना के जवान लांस नायक यज्ञ प्रताप सिंह ने एक विडियो पोस्ट करते हुए आरोप लगाया कि अधिकारी, जवानों का शोषण करते हैं. जो विडियो खूब वायरल हुआ.

तीनो ही विडियो में कुछ समानताये मिल रही थी. सभी में जवान शिकायत कर रहे थे और इन जवानों ने अपनी शिकायत कुछ ख़ास अफ़सरों और नेताओं तक ना पहुंचाकर आम जनता तक पहुंचाईं, जिससे सच्चाई सामने आ सके. जिसके लिए इन सभी ने सोशल मीडिया का इस्तेमाल किया और अपने उद्देश्य में कामयाब भी रहे.

लेकिन इन सब विडियो के सामने आने के बाद खबर आ रही हैं कि भारत जवानों को सोशल मीडिया का इस्तेमाल करने पर रोक लगायी जा रही हैं. अगर ऐसा सच हैं तो एक तरफ देश की सरकार डिजिटल इंडिया की बात करती हैं वही दूसरी ओर इसके प्रयोग पर लोग लगाने की बात कर रही हैं.

भारतीय मीडिया के अनुसार सुरक्षा बालो में कई यूनिट्स में स्मार्ट फोन पर पाबंदी भी लगा दी गई है, साथ ही सरकार ने कहा है कि इस नियम का जवानों को कड़ाई से पालन करना होगा. सरकार के इस आदेश के बाद अब अर्धसैनिक बलों CRPF के जवान कोई भी तस्वीर खींचकर ट्विटर, फेसबुक, व्हाट्सएप्प, यूट्यूब या इंस्टाग्राम पर नहीं डाल सकते है.