Home एशिया बांग्लादेश, रोहिंग्या मुसलमानो के प्रवेश से चिंतित, म्यांमार के राजदूत को किया...

बांग्लादेश, रोहिंग्या मुसलमानो के प्रवेश से चिंतित, म्यांमार के राजदूत को किया तलब

म्यांमार के राखिने राज्य के मुसलमानो पर बढ़ते उत्पीड़न के सम्बन्ध में बांग्लादेश सरकार ने म्यांमार के राजदूत को तलब किया हैं. म्यांमार की सेना के सुरक्षा अभियान में रोहिंग्या मुसलमानो को निशाना बनाया जा रहा हैं जिसके कारण वह अल्पसंख्यक समुदाय देश छोड़ने को मजबूर हैं और बांग्लादेश में पनाह लेने की कोशिश कर रहा हैं, लेकिन बांग्लादेश के आंतरिक समुदायों के दबाव के कारण रोहिंग्या समुदाय को लोग बांग्लादेश में प्रवेश नहीं कर पा रहे हैं, जबकि संयुक्त राष्ट्र ने भी बांग्लादेशी सरकार से रोहिंग्या मुसलमानो को प्रवेश देने का आग्रह किया हैं.

सैकड़ो रोहिंग्या मुसलमानो के बांग्लादेशी सीमा पर करने से घबराई सरकार ने म्यांमार के राजदूत मयो मिथ थान को ढक में तलब कर रोहिंग्या मुसलमानो की सुरक्षा को सुनिश्चित करने को कहा हैं. बांग्लादेशी अधिकारियों के अनुसार रोहिंग्या मुसलमानों से 20 भरी हुई नाव को उन्होंने वापस भेज दिया. इन नाव में 150 से अधिक लोग थे.

उल्लेखनीय हैं कि म्यांमार कि सेना के सुरक्षा अभियान के बाद से रोहिंग्या मुसलमानो को जिन ज़ुल्म-ओ-सितम का सामना करना पड़ रहा हैं वह किसी से छुपा नहीं हैं. सेना पहले तो रोहिंग्या समुदाय के घरो को जल रही हैं, यदि वह घर छोड़कर भाग रहे हैं तो उनको सीधे गोली मार रही हैं, ऐसे हालातो में सेना की गोलियों से बच निकलने वाले मुसलमान बंगलादेश की सीमा पर करने की कोशिश कर रहे हैं जहा उनको बांग्लादेशी सेना का सामना करना पड़ रहा हैं, लेकिन इसके बावजूद सैकड़ो नागरिक प्रवेश करने में कामयाब हो रहे हैं.

पिछले छः हफ़्तों से जारी सुरक्षा अभियान में रोहिंग्या मुसलमानो के 1200 घरो को ध्वस्त कर दिया गया, साथ ही सैकड़ो लोग मौत के घाट उतार दिए गए. जबकि सरकार इन दावो को ख़ारिज करती हैं, सरकार का कहना हैं कि सेना अभियान ज़रूर चला रही हैं लेकिन इसमें रोहिंग्या मुसलमानो को निशाना नहीं बनाया जा रहा हैं.

बर्मा ह्यूमन राइट्स नेटवर्क (BHRN) के अनुसार, सुरक्षा बलों ने 19 अक्टूबर को एक ही गांव की करीब 30 मुस्लिम महिलाओं के साथ रेप किया. वहीँ दूसरे गांव से 25 अक्टूबर को 16 से 18 वर्ष की पांच लड़कियों के साथ बलात्कार किया गया. इसके अलावा 20 अक्टूबर को भी एक अन्य गांव में 2 लड़कियों के साथ बलात्कार हुआ. वहीँ 150 से ज्यादा मुस्लिमों के मारे जाने की भी खबर हैं.