Home एशिया मां रहती थी बीमार, बेटे ने छत से फेंका

मां रहती थी बीमार, बेटे ने छत से फेंका

source: Twitter

World News Arabia, 05-01-2018, Time: 02:31 PM

दुनिया में माँ का दर्जा सबसे ऊपर होता है. जहाँ हर कोई मां और बेटे के रिश्ते की दुहाई देता है. वहीँ भारत में एक मामला सामने आया है जिससे आप हैरान रह जाएँगे और कहेंगे की क्या वाकई कोई बेटा अपनी माँ के साथ ऐसा सुलूक कर सकता है. माँ अपने बच्चों के लिए कितनी कुर्बानी करती है, लेकिन इस शख्स ने माँ और बेटे के रिश्ते को घहरी चोट पहुचाई है. इस शख्स ने अपनी माँ को छत से फेककर उन्हें मौत के घाट उतार दिया. बेटे के इस कदम को उठाने की वजह जानकर आप चौंक जाएँगे. बेटे ने अपनी माँ का कत्ल  इसलिए किया क्योंकि वह अपनी मां की बीमारी से तंग आ चुका था और उनका इलाज करवाकर थक चुका था.

आपको बता दें कि पुलिस ने तीन महीने पहले के इस मामले को पहले ख़ुदकुशी का मामला समझकर केस की फाइल बंद दी थी, लेकिन सामने आये सीसीटीवी फुटेज से पूरी वारदात का खुलासा हो गया है. फुटेज में बेटा खुद मां को छत पर ले जाता दिखा.

वारदात को अंजाम 27 सितंबर 2017 को दिया गया. पुलिस ने राजकोट में रहने वाली जयश्रीबेन विनोदभाई नाथवानी की उनकी बिल्डिंग की छत से गिरने के बाद मौके पर हुई मौत को ख़ुदकुशी का मामला समझकर कर फाइल बंद कर दी थी, लेकिन कुछ दिनों बाद पुलिस को एक अज्ञात चिट्ठी मिली जिसमें शक ज़ाहिर किया गया था कि जयश्रीबेन का कत्ल किया गया है.

इसके बाद पुलिस मामले की जांच-पड़ताल में जुट गयी और बिल्डिंग के सीसीटीवी फुटेज चेक किए जाए तो एक दूसरी ही कहानी सामने आई. फुटेज में देखा गया कि मृत जयश्रीबेन बीमारी की वजह से चलने ठीक से चल नहीं पा रही थी तो उनका बेटा संदीप सीढ़ियां चढ़ने में उनकी मदद करने लगा और सहारा देने लगा. जिस वक़्त जयश्रीबेन छत से कूदीं उस वक़्त बेटा छत पर  मौजूद था. पुलिस ने बताया कि ऐसा मुमकिन नहीं है कि बेटे के साथ होने के बावजूद वह आत्महत्या कर लें.

इसके बाद से ही पुलिस ने इस शख्स पर शक ज़ाहिर किया और बेटे से पूछताछ करना शुरू कर दी. बेटे ने बताया कि “मेरी मां सूरज की पूजा करने जा रही थीं और मैं उनकी मदद कर रहा था.” पुलिस ने जब जयश्रीबेन की मेडिकल रिपोर्ट्स और हेल्थ रेकॉर्ड्स की जांच की तो पाया गया कि वह अपने पैरों पर चलने की हालत में नहीं थीं और इतनी खराब हालत में करीब ढाई फीट ऊंची रेलिंग से कूदकर आत्महत्या करना नामुमकिन है.

वहीँ पुलिस अधिकारियों ने बताया कि जब आरोपी से सख्ती से पूछताछ की गई तो वह ज़्यादा देर सच को छिपा नहीं पाया और उसने कुबूल किया कि अपनी मां की खराब सेहत से थक चुका था और इसलिए उसने अपनी मां की हत्या करने का फैसला किया.

Previous articleकतर के नागरिकों पर सऊदी सरकार ने लगाया उमराह करने पर प्रतिबंध
Next articleसऊदी अरब- अवैध रूप से रहने वाले 3,00,000 से ज्यादा प्रवासियों की हुई गिरफ़्तारी