Home यूरोप सात ऐसी मुस्लिम महिला एथलीट जिन्होंने रियो ओलंपिक में भेदभाव को किया...

सात ऐसी मुस्लिम महिला एथलीट जिन्होंने रियो ओलंपिक में भेदभाव को किया दरकिनार

ओलंपिक खेलो के महाकुम्भ की शुरुआत ब्राज़ील के रियो में हो चुकी हैं. मैं अकेला इस खेल के लिए भावुक नहीं. इस महाकुम्भ की शुरुआत से ही सभी को यह जिज्ञासा लगी रहती हैं कि इस सत्र में किस देश से कौन कौन से खिलाड़ी हिस्सा लेंगे.

हालाँकि, इस बार हमने चुना है मुस्लिम महिलाओं को जो इस साल ओलंपिक में भाग लेने जा रही हैं.और इस सत्र में अतिरिक्त ध्यान जुटाने में कामयाब रही हैं.

SARAH ATTAR SAUDI ARABIA – TRACK & FIELD

23 वर्षीय सराह अत्तार रियो ओलंपिक में सऊदी का नेतृत्व करने पहली महिला बन गयी हैं. ऐसा कर सराह ने इतिहास रच दिया हैं.

Screenshot_18

AISHA AL BALUSHI UNITED ARAB EMIRATES – WEIGHTLIFTING

25 वर्षीय आईशा अलबुशी यूनाइटेड अरब एमिरेट्स की हैं. जो इस ओलंपिक सत्र में वेटलिफ्टिंग प्रतियोगिता में हिस्सा ले रही हैं.

Screenshot_19

HABIBA GHRIBI  

तुनिशिया की हबीब ग़रीबी.जोकि गोल्ड मेडल्सिट हैं.

Screenshot_20

JESSICA HOUARA-D’HOMMEAUX

फ्रांस की जेसिका हौरा, जोकि एक फुटबाल प्लेयर हैं.

Screenshot_21

ELIF JALE YESILIRMAK

तुर्की की एलिफ जाले येसिलिरमक, जोकि रियो में रेसलिंग प्रतियोगिता में भाग ले रही हैं.

Screenshot_22

LEILA RAJABI

ईरान की शॉट-पुट खिलाड़ी.

Screenshot_23

IBTIHAJ MUHAMMAD  

इब्तिहाज मुहम्मद, ओलंपिक में संयुक्त राष्ट्र अमेरिका का नेतृत्व करने वाली पहली मुस्लिम महिला हैं.

Screenshot_24