इंटरनेशनल फेडरेशन ऑफ़ जर्नलिस्ट ने 6 अप्रैल को गाजा पट्टी में हुई फिलिस्तीनी पत्रकार यासेर मुर्तजा की मौत के बाद एक बयान में इजराइल सरकार पर झूठ बोलने और किसी की मृत्यु के हत्यारे को छुपाने का का आरोप लगाया है.

“फिलिस्तीनी निर्दोष नहीं हैं “

आईएफजे ने इसरायली सरकार पर बिना सबूतों के बयानबाजी करने का आरोप भी लगाया था, जिसमे इसरायली डिफेंस मिनिस्टर अविघोर ने कहा था की “यासेर हमास का गुप्त सदस्य था और कहा था की गाजा पट्टी में मरने वाला कोई भी फिलिस्तीनी निर्दोष नहीं है.”

मिडिल ईस्ट मॉनिटर की खबरों के अनुसार आईएफजे ने पहले 2015 में मुर्तजा द्वारा एक शिकायत दर्ज की थी, जिसमे गाजा में हमास द्वारा नियंत्रित सुरक्षा बलों द्वारा दुष्कर्म शामिल है, वैश्विक निकाय ने मीडिया रिपोर्टों को भी संदर्भित किया है कि अमेरिकी विदेश विभाग ने हाल ही में एक अनुदान प्राप्त करने के लिए पत्रकार को भर्ती किया था.

आईएफजे के जनरल सेक्रेटरी एंथनी बेलेंगेर ने लीबरमैन को इसमें शामिल होने और फिर छुपाने का आरोप भी लगाया .

उन्होंने कहा की “यह स्पष्ट है कि इजरायली सैनिक पत्रकार की हत्या के बाद पत्रकार के हत्यारों को अदालत में पेश करने की जगह रक्षा मंत्री के बिना सबूतों वाले बयानों में रूचि रखते हैं.”

उन्होंने कहा “अब इजराइल को इस हत्या के बारे में झूठ बोलना बंद करना चाहिए और यह समय फिलिस्तीनी पत्रकारों की हत्या को रोकना है.”

पहनी थी नीली जैकेट

पिछले शुक्रवार को इजराइल के सैनिकों की गोलीबारी से एक फिलिस्तीनी पत्रकार की मौत हो गयी थी, जो की गाजा में हो रही घटनाओं को कवर कर रहा था, फिलिस्तीनी पत्रकार का नाम यासेर मुर्तजा था, यासेर ने प्रेस वर्ड्स की नीली जैकेट पहनी थी, इसरायली गोलीबारी के बाद यासेर को अस्पताल लाया गया जहाँ यासेर की मौत हो गयी थी.

न्यूज़ अरेबिया एकमात्र न्यूज़ पोर्टल है जो अरब देशों में रह रहे भारतीयों से सम्बंधित हर एक खबर आप तक पहुंचाता है इसे अधिक बेहतर बनाने के लिए डोनेट करें
डोनेशन देने से पहले इस link पर क्लिक करके पढ़ें Click Here

वर्ल्ड न्यूज़ अरेबिया का यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें :-


आज की पसंदीदा ख़बरें
Loading...

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here