Home यूरोप “मै चाहता हूँ की मेरी पत्नी और बच्चे साधारण जीवन जीयें” :...

“मै चाहता हूँ की मेरी पत्नी और बच्चे साधारण जीवन जीयें” : बिन सलमान

पिछले दिनों जब सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहमम्द बिन सलमान फ़्रांस के दौरे पर थे तो फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमानुएल मैक्रॉन के साथ हुए एक प्रेस कांफ्रेंस में एक फ्रांसीसी रिपोर्टर ने सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान को कहा की “क्या वह अपनी पति को अपने साथ फ्रांस लेकर आयेंगे  अगर वह दोबारा फ़्रांस की यात्रा करेंगे तो?

मेरी पत्नी भी चाहती है की ..

अल अरेबिया की खबरों के मुताबिक रिपोर्टर द्वारा या सवाल पूछे जाने के बाद चेहरे पर हल्की सी मुस्कान के साथ और अन्य संवाददाताओं के उत्सुक चेहरों पर देख कर क्राउन प्रिंस ने कहा की “वह अपने परिवार का बहुत ही ज्यादा ख्याल रखते हैं , वह अपनी पत्नी और चार बच्चों के लिए साधारण जीवन चाहते हैं.” क्राउन प्रिंस ने कहा की “उनका परिवार उनके क्राउन प्रिंस के पद से प्रभावित नहीं है.”

उन्होंने कहा, “मैं चाहता हूं कि मेरे बच्चों को राजनीतिक दबाव से दूर और बहुत ही ज्यादा साधारण जीवन जीना चाहिए. “

(VIDEO SOURCE-AL AREBIYA)

उन्होंने कहा की “मै चाहता हूँ की मेरी पत्नी और बच्चे बहुत ही साधारण जीवन व्यतीत करें और मेरी पत्नी भी यही चाहती है.”

ईरान और परमाणु समझौता

प्रेस कांफ्रेंस में क्राउन प्रिंस मोहमम्द बिन सलमान से अन्य दबाब डालने वाले मुद्दों के बारे में भी पुछा गया, जैसे सीरिया, यमन और ईरान के बारे में, जिसका उन्होंने जवाब दिया.

(VIDEO SOURCE-AL AREBIYA)

ईरान के बारे में पूछे जाने पर क्राउन प्रिंस मोहमम्द बिन सलमान ने कहा की “वह फ़्रांस के राष्ट्रपति मैक्रॉन के साथ कई मुद्दों पर सहमत हुए, सिवाय ईरान के परमाणु एजेंडे को छोड़कर.”

उन्होंने कहा की “यदि ईरान ने फैसला लिया है परमाणु बम बनाने का और कहा है की यह एक या दो दिन का समय लेगी तो हमें यह उस  दिशा में कार्य करने के लिए पर्याप्त समय देगा. “हालांकि, जब 2025 में परमाणु डील समाप्त हो जाता है, तो ईरान केवल दिनों में एक परमाणु बम बनाने में सक्षम हो जाएगा जो बहुत खतरनाक है और हमारे विकल्पों को सीमित करेगा.”

उन्होंने कहा की “मुझे उम्मीद है कि राष्ट्रपति मेरे साथ परेशान नहीं हैं और समझ रहे हैं की मै क्या कहना चाहता हूं, लेकिन हम 1938 में किए गए सौदे को दोहराना नहीं चाहते थे, जिसके परिणामस्वरूप द्वितीय विश्व युद्ध की शुरुआत हुई थी” यूके के प्रधान मंत्री चेम्बरलेन ने हिटलर के साथ तुष्टीकरण की नीति अपनायी थी जो कि असफल रही.