Home मिडिल ईस्ट अमेरिका और इज़राइल हमारे सबसे बड़े “दुश्मन”: ईरान

अमेरिका और इज़राइल हमारे सबसे बड़े “दुश्मन”: ईरान

इस साल मई में ईरान के साथ एक ऐतिहासिक परमाणु समझौते से बाहर निकलने के बाद राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने मई में ईरान और संयुक्त राज्य अमेरिका के बीच तनाव बढ़ गया है. अमेरिका द्वारा इस साल नवंबर में ईरान के तेल क्षेत्र को लक्षित करने वाले प्रतिबंधों को फिर से लागू किया जाएगा.

ईरानी राष्ट्रपति हसन रूहानी ने कहा की अमेरिका की वजह से ईरान को “आर्थिक, मनोवैज्ञानिक और प्रचार युद्ध” का सामना करना पड़ रहा है. संयुक्त राज्य अमेरिका और इज़राइल इस्लामी गणराज्य के मुख्य दुश्मनों में से है जो वक़्त ईरान पर हमला से युद्ध करने के लिए तैयार रहते है.

रॉयटर्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक, ईरानी राष्ट्रपति हसन रूहानी ने कहा कि संयुक्त राज्य अमेरिका लगातार ईरान को संदेश भेजता है कि वह वार्ता शुरू करने के लिए कहें.

साथ ही ट्रम्प ने ट्रम्प ने कहा है कि वह ईरान के नेताओं से मिलेंगे. रूहानी ने ईरानी राज्य टेलीविजन पर प्रसारित एक भाषण में कहा: एक तरफ वे ईरान के लोगों पर दबाव डालने की कोशिश करते हैं, दूसरी तरफ वे हमें विभिन्न तरीकों से संदेश भेजते हैं जिन्हें हमें आना चाहिए और साथ बातचीत करना चाहिए.