सीरिया में युद्ध विराम के अमेरिका के प्रस्ताव को ठुकराने के बाद रूस और अमेरिका में तनाव बढ़ गया हैं. उल्लेखनीय हैं कि रूस सिरियाई सेना के समर्थन आतंकी गुट के कब्ज़े वाले इलाके में हमले कर रहा हैं, जबकि इस पर अमेरिका इस पर अमेरिका का कहना हैं कि रूस को हवाई हमले रोक देना चाहिए क्योकि इन हमलों में आम नागरिक मारे जा रहे हैं.

दोनों देशो के बीच टकराव को चलते रूसी विदेश मंत्री ने बीबीसी से कहा कि अमेरिका सीरिया के राष्ट्रपति बशर-अल-असद को सत्ता से हटाने की कोशिश में एक जेहादी समूह का बचाव कर रहा हैं.

रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने बीबीसी से कहा कि अमरीका ने ताक़तवर विद्रोही गुट जबह फ़तह-अल-शाम और अन्य कट्टरपंथी गुटों को उदार विद्रोहियों से अलग करने के अपने वादे को तोड़ दिया.

इस पर प्रतिक्रिया करते हुए अमेरिकी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि रूस के आरोप बेतुके हैं. सर्गेई लावरोव के आरोपो पर सफाई पेश करते हुए विदेश विभाग के प्रवक्ता मार्क टोनर ने पत्रकारों से कहा कि अमेरिका इस आतंकी गुटो पर इसलिए हमले नहीं कर पा रहा हैं क्योकि वह आम नागरिको में शामिल हो गए हैं.

आपको बता दे कि हाल ही में अमेरिका और रूस के बीच हुए समझौते के मुताबिक दोनों देशो को इस्लामिक स्टेट और जबह फ़तह-अल-शाम समूह पर साझा बमबारी करनी थी. लावरोव ने इस मुद्दे पर कहा कि लेकिन अब अमरीका आतंकी गुट जबह फ़तह-अल-शाम के साथ रणनीतिक साझेदारी कर ली है और वो उसके साथ मिलकर लड़ रहे हैं, और अपने वादे को तोड़ रहे हैं.

Web-Title: America Protect Militants in Syria

Key-Words: America, Protect, Syria, Militants, Russia, Foreign Minister

न्यूज़ अरेबिया एकमात्र न्यूज़ पोर्टल है जो अरब देशों में रह रहे भारतीयों से सम्बंधित हर एक खबर आप तक पहुंचाता है इसे अधिक बेहतर बनाने के लिए डोनेट करें
डोनेशन देने से पहले इस link पर क्लिक करके पढ़ें Click Here

वर्ल्ड न्यूज़ अरेबिया का यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें :-


आज की पसंदीदा ख़बरें
Loading...

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here