Home एशिया क़तर में फंसे प्रवासियों को एयरलिफ्ट कर वापस लाएगी भारत सरकार

क़तर में फंसे प्रवासियों को एयरलिफ्ट कर वापस लाएगी भारत सरकार

जून की शुरुआत में सऊदी अरब समेत 6 खाड़ी देशों ने कतर के साथ रिश्ते तोड़ने की घोषणा की थी. यात्रा और व्यापारिक रिश्तों का भी बहिष्कार कर दिया गया. इस ब्लॉकेज की स्थिति में वहां फंसे भारतीयों को सुरक्षित वापस लाने के लिए भारत सरकार स्पेशल फ्लाइट्स चलाएगी.

भारत के नागरिक उड्डयन मंत्री अशोक गजपति राजू ने कहा कि एअर इंडिया और प्राइवेट एअरलाइन अतिरिक्त फ्लाइट चलाएंगे जो कि दोहा से कराची, तिरूवनंतपुरम और मुंबई के लिए है. उन्होंने भरोसा दिया कि कतर में रह रहे भारतीय खुद को फंसा हुआ नहीं महसूस कर रहे हैं, लेकिन कई भारतीय टिकट नहीं ले पा रहे हैं. इसका कारण है कि ब्लॉकेज के बाद उनसे अतिरिक्त चार्ज मांगा जा रहा है. गौरतलब है कि कतर में करीब 7 लाख भारतीय रहते हैं.

एक तरफ एअर इंडिया केरल और दोहा के बीच 25 जून से 8 जुलाई के लिए स्पेशल फ्लाइट चला रही है. दूसरी तरफ जेट एअरवेज मुंबई से दोहा के बीच कुछ अतिरिक्ट फ्लाइट्स चला रहा है. नागरिक उड्डयन मंत्रालय से जुड़े एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि जेट एअरवेज 22 और 23 जून को एक 168 सीटर एअरक्राफ्ट ऑपरेट करेगा. एअर इंडिया की सहायक कंपनी एअर इंडिया एक्सप्रेस 186 सीट के बोइंग 737 विमान तिरुवनंतपुरम से दोहा और कोच्चि से दोहा के रूट पर 25 जून से 8 जुलाई तक चला रहा है.

राजू ने बताया कि सरकार कुछ दूसरी प्राइवेट एअरलाइंस से भी इस बारे में बात कर रही है. उन्होंने कहा कि यह प्रयास विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से बात करने के बाद शुरू किया गया है. यह सभी प्रयास दोहा से सही समय पर भारतीयों को लाने के लिए किया जा रहा है. इस मुद्दे पर वह लगातार सुषमा स्वराज के संपर्क में हैं.

Previous articleजब लेबनान के प्रधानमंत्री ने इफ्तार पार्टी में लड़की के सामने रखा शादी का प्रस्ताव
Next articleगर्मी से त्रस्त पत्रकारों को पानी पीना पड़ गया भारी, हो गयी पिटाई