Home मिडिल ईस्ट इजराइल ने नियुक्त की पहली महिला मुस्लिम राजनयिक

इजराइल ने नियुक्त की पहली महिला मुस्लिम राजनयिक

इजराइल ने अपनी पहली मुस्लिम महिला राजनयिक नियुक्त की है जो जल्दी ही तुर्की में तेल अवीव का प्रतिनिधित्व करेंगी. इजराइल के बका-अल-घर्बिया शहर में जन्मी रशा अत्मनी की उम्र 31 साल है. वह एक फिलिस्तीनी अरब हैं. रशा अंकारा में एम्बेसी कि पहली सचिव के रूप में नियुक्त की जाएँगी.

रशा ने येरुशलम के हिब्रू विश्विद्यालय से मनोविज्ञान का अध्ययन किया है. इसके बाद उन्होंने 3 वर्ष तक विदेश मंत्रालय का कैडेट कोर्स किया. इस कोर्स को करने के लिए 21 लोगों में से चुनी गयी वे एकलौती उम्मीदवार थीं.

यूनिवर्सिटी में पढ़ते हुए अत्मनी ने अपने एक ब्लॉग में लिखा कि उन्होंने कॉलेज मॉडल यूएन क्लब में अपने राजनयिक कौशल को सम्मान दिया. क्लब में शामिल होने के एक साल बाद उन्हें तीन महीने के लिए यूथ एम्बेसडर के तौर पर संयुक्त राष्ट्र के न्यूयॉर्क में इजराइल का प्रतिनिधित्व करने का अवसर दिया गया था.

उन्होंने महिलाओं के अधिकारों के उल्लंघन पर चर्चा के दौरान मानव अधिकारों की विधान सभा समिति में उनकी भागीदारी को एक महत्वपूर्ण मोड़ के रूप में वर्णित किया.

उन्होंने कहा कि इस बार उन्होंने सीरिया, सऊदी अरब, ईरान, ईराक, मिस्र में भाषण सुने जिसमें महिलाओं के अधिकारों के इजराइल के व्यवस्थित उल्लंघन की आलोचना की गयी. जबकि वे एक अरब मुस्लिम स्त्री होकर जो कि फिलिस्तीनी मूल की है, संयुक्त राष्ट्र महासभा में इजराइल का प्रतिनिधित्व कर रही हैं.

अत्मनी इजराइल की पहली महिला राजनयिक नहीं हैं, लेकिन वो विदेश भेजी जाने वाली पहली महिला राजनयिक ज़रूर हैं. उनसे पहले ईसाई अरब रानिया जुबरान ने 2006 से 2009 तक विदेश मंत्रालय में काम किया था लेकिन काईरो भेजे जाने से कूचा समय पहले ही उन्होंने छोड़ दिया था. इजराइल में कई इसाई और मुस्लिम राजनयिक हैं.

Previous article2075 तक वैश्विक आबादी में सबसे अधिक होंगे इस्लाम के अनुयायी
Next articleअपना पेट काट कर बेटी की ख़ुशी के लिए पैसे जोड़ता रहा ये अपाहिज मुस्लिम भिखारी