क्रॉनिकल डॉट इन्फो की रिपोर्ट के मुताबिक, चाइम कनवेविस्की नाम के इसरायली रब्बी ने यह निर्धारित किया है कि पिछले शनिवार को यहूदी लोगों का रक्षक मसीह (दज्जाल) का जन्म हो चुका है. यह घटना होने का मतलब यह है की दुनिया अपने दौर यानी क़यामत के नज़दीक है.

जैसा कि 90 वर्षीय रब्बी ने देखा, अगली शताब्दी में मेसिअनिक युग आएगा. वह खारक्टेरिजुत्स्य्य ग्रह की पूर्ण सफाई जो  इश्वर का राज्य है. अब हम ऐसे दौर में रह रहे है जहाँ मानवता बाइबल और पवित्र चीज़ों के लिए नफरत है.  यह एक तथ्य है जो मसीह के बारे में भविष्यवाणियों के साथ पूरी तरह से सच है.

यहूदी कौम लम्बे वक़्त से मसीह के आने का इंतज़ार कर रहे है जिसे वह अपना ईश्वर मानते है और उसे ‘तालमुद’ कहते है. रब्बी ने जन्म की तारीख को सावधानी से पवित्र ग्रंथों का अध्ययन किया. अब हर कोई मुक्ति का इंतज़ार कर रहा है.

 

मसीह की मान्यताओं के मुताबिक हर पीढ़ी एक शरीर से दूसरे शरीर में जाती है, इस प्रकार पुनर्जन्म होता है. यहूदी रक्षक के आने की पुष्टि भी रब्बी पिंचस विंस्टन ने की. उनके अनुसार, मसीह (दज्जाल) के जन्म का संकेत भी ईरान और इज़राइल के बीच तनाव शुरू हो चुका है (जैसा कि शास्त्रों में बताया गया है). अब बहुत जल्द वह दुनिया को दिखाई देगा.

इस बीच, एक और रब्बी ने दावा किया कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के तेल अवीव से यरूशलेम में अमेरिकी दूतावास को यरूशलेम में स्थानांतरित करने का निर्णय मसीह के आने की भविष्यवाणी का हिस्सा है.

रब्बी हिलेल वीस ने कहा कि उनका मानना है कि दूतावास पर ट्रम्प का निर्णय दुनिया खत्म होने का पहला चरण है.

न्यूज़ अरेबिया एकमात्र न्यूज़ पोर्टल है जो अरब देशों में रह रहे भारतीयों से सम्बंधित हर एक खबर आप तक पहुंचाता है इसे अधिक बेहतर बनाने के लिए डोनेट करें
डोनेशन देने से पहले इस link पर क्लिक करके पढ़ें Click Here

वर्ल्ड न्यूज़ अरेबिया का यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें :-


आज की पसंदीदा ख़बरें
Loading...

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here