Home मिडिल ईस्ट तुर्की के अफरीन ऑपरेशन से अब तक हो चूका है 400 आतंकवादियों...

तुर्की के अफरीन ऑपरेशन से अब तक हो चूका है 400 आतंकवादियों का सफाया

source-daily sabah

तुर्की सेना ने शनिवार को कहा की “तुर्की के ऑपरेशन ओलिव ब्रांच शुरू करने के बाद से अब तक उत्तरी-दक्षिण सीरिया में कम से कम 394 पीकेके / केकेसी / पीवाईडी-वाईपीजी और दाईश आतंकवादी मारे जा चुके है.

इसके अलावा, तुर्की सशस्त्र बलों द्वारा किए गए हवाई हमलों में लगभग 340 पीकेके / केकेसी / पीवाईडी-वाईपीजी और दाईश आतंकवादियों के ठिकानो को नष्ट कर दिया गया है.

शनिवार को, तुर्की सेना ने पीकेके के सीरिया सहयोगी डेमोक्रेटिक यूनियन पार्टी (पीवाईडी) और अपने पीपुल्स प्रोटेक्शन यूनिट्स (वाईपीजी) मिलिशिया की सीमा को साफ़ करने के लिए अफरीन पर एक ऑपरेशन शुरू किया, ताकि उन्हें स्वायत्त क्षेत्र स्थापित करने से रोका जा सके, जिसका तुर्की के अधिकारियों ने पूर्वोत्तर के कोबीनी और जज़ीरा केंटों को उत्तर-पश्चिमी अफ्रिन कैंटन को जोड़कर “आतंक गलियारे” का आह्वान किया.

तुर्की द्वारा लॉन्च किया गया था, जो उत्तर-पश्चिमी सीरिया में पीकेके / पीवाईडी / वाईपीजी / केसीसी और दाईश आतंकवादी समूह का खात्मा करने के लिए लांच किया गया है.”

तुर्की जनरल स्टाफ के मुताबिक, “इस ऑपरेशन का उद्देश्य तुर्की सीमाओं और क्षेत्र में सुरक्षा और स्थिरता स्थापित करने के साथ-साथ आतंकवादियों के उत्पीड़न और क्रूरता से सीरियाई लोगों की रक्षा करना है.”

इस अभियान को अंतरराष्ट्रीय कानून, यूनाइटेड नेशन सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों के तहत तुर्की के अधिकारों के ढांचे के तहत किया जा रहा है, यह यू.एन. चार्टर और सीरिया के क्षेत्रीय अखंडता के प्रति सम्मान के तहत आत्मरक्षा का अधिकार है.

सेना ने कहा की “इस ऑपरेशन के साथ-साथ किसी भी नागरिक को नुकसान ना हो इस बात पर भी ख़ास ध्यान रखा जा रहा है.”

Previous articleइंडोनेशियाई युवाओं ने सऊदी अरब पर लगाये अनेकों आरोप, कहा की ”वहां राजनीतिकरण का हज है
Next articleमानवता का क़त्ल करने वालों को माफ़ नहीं किया जा सकता : मुस्लिम वर्ल्ड लीग