Home मिडिल ईस्ट अमेरिका और यूरोप की धमकियों में कोई दम नहींः ईरानी वरिष्ठ नेता

अमेरिका और यूरोप की धमकियों में कोई दम नहींः ईरानी वरिष्ठ नेता

source: Daily Sabah

इस्लामी क्रांति के वरिष्ठ नेता आयतुल्लाहिल उज़मा सैयद अली ख़ामेनेई ने कहा कि न तो अमरीका और यूरोप की धमकियों में कोई जान है और न ही उनके वादों पर विश्वास किया जा सकता है, ईरान की जनता अमरीकी प्रतिबंधों को भी बड़े शैतान के लिए एसी पराजय में बदल देंगे कि जिसका अतीत में कोई उदाहरण नहीं होगा।

ईरान के पवित्र नगर क़ुम के हज़ारों नागरिकों ने बुधवार को तेहरान में हुसैनिया इमाम ख़ुमैनी में इस्लामी क्रांति के वरिष्ठ नेता सैयद अली ख़ामेनेई से मुलाक़ात की।

9 जनवरी के एतिहासिक आंदोलन के यादगार दिन के अवसर पर होने वाली इस मुलाक़ात में संबोधित करते हुए वरिष्ठ नेता आयतुल्लाहिल उज़मा सैयद अली ख़ामेनेई ने क़ुम को क्रांति का केन्द्रीय शहर और क्रांति की माता क़रार दिया।

वरिष्ठ नेता ने कहा कि क़ुम, इस्लामी क्रांति का मुख्य और अध्यात्मिक स्रोत है जिसने दुनिया को बदल कर रख दिया। वरिष्ठ नेता ने अमरीका और साम्राज्यवादी शक्तियों की ईरान दुश्मनी के कारणों को समझने में  लापरवाही से बचने की आवश्यकता पर बल देते हुए कहा कि क्रांति की वास्तविकता और प्रवृत्ति तथा इस्लामी सरकार और क्रांति के आधारभूत सिद्धांतों के साथ ईरानी जनता की निष्ठा और साहस, इस्लामी गणतंत्र ईरान के साथ गहरी और स्थाई दुश्मनी का मुख्य कारण है।