Home मिडिल ईस्ट फिलिस्तीन की महिला कैदियों पर इजराइल में हो रहा ये जुल्म

फिलिस्तीन की महिला कैदियों पर इजराइल में हो रहा ये जुल्म

क़ैदियों और आज़ादों के मामलों से संबंधित कमेटी ने कहाः मदर्स डे को ख़ूबसूरती और प्यार का दिन होना चाहिए था लेकिन इन दिन को इस्राईल क़ैदी महिलाओं के लिए सख़्ती, और कठिनाई में बदल रहा है और उनका यह दुख जेल से बाहर अपनी औलाद की चिंता में घुल कर दोगुना हो रहा है, यह अत्याचारी शासन इन फ़िलिस्तीनी महिलाओं की उनकी औलाद से मुलाक़ात को रोकने के लिए हर प्रकार के क़दम उठा रहा है।

इस केमटी ने उन क़ौदियों का नाम भी बताया है जो मदर्स डे पर इस्राईल के जेलों में बंद हैं वह, यासमीन शाबान, ईमान, कनजू, इसरा जआबीस, हलवा हमामरा, अबला अलअदम, नसरीन हसन, हनादी राशिद, इब्तेसाम काआबना, साबेरीन ज़ीदात, अमानी हशीम, जीहान हशीमा, समीरा हलाएक़ा, सबाह फिरऔन, दलाल अबु हवा, शफ़ा अबीदू, समीहा अबू अरमीला, जूदा अबू माज़ेन, फ़ातेमा अलयान, और तूलकरम शहर की एक और महिला जिनके परिवार वालों ने उनका नाम प्रकाशित करने की अनुमति नहीं दी है।

केमटी के प्रमुख ईसा क़राक़अ ने तमाम मानवाधिकार संगठनों और क़ैदियों के अधिकारों का समर्थन करने वाले संगठनों से मांग की है कि वह ज़ायोनी शासन पर दबाल डालें ताकि हशारून कि दामून जेलों में बंद माओं को तुरंत रिहा किया जाए। फ़िलिस्तीन की 61 महिलाएं इस्राईल के जेलों में बंद हैं जिनके साथ मानवता के विरुद्ध व्यवहार किया जा रहा है और उनको उनके बच्चों से दूर रखा जा रहा है।