Home मिडिल ईस्ट यमन में हर दस मिनट में मौत की चपेट में जा रहा...

यमन में हर दस मिनट में मौत की चपेट में जा रहा हैं एक बच्चा

संयुक्त राष्ट्र संघ की सुरक्षा परिषद ने यमन पर सऊदी अरब के हमलो के कारण देश में पैदा हुए खाद्य संकट पर चेतावनी देते हुए कहा कि हर दस मिनट पर एक यमनी बच्चा भुखमरी का शिकार हो रहा हैं.

फ़ार्स न्यूज़ एजेन्सी की रिपोर्ट के अनुसार, संयुक्त राष्ट्र संघ के मानवता प्रेमी सहायता केन्द्र के प्रभारी स्टीफ़न ओब्राएन ने यमन में जारी हमलो के बाद पैदा हुए खाद्य संकट व सुरक्षा के बारे में सचेत करते हुए कहा कि यमन के एक करोड़ लोगों को अपना जीवन जारी रखने के लिए मानवीय सहायता की आवश्यकता है.

उनका कहना था कि जारी वर्ष के दौरान यमन में खाद्य सुरक्षा और सूखे का संकट पैदा हो सकता है. सुरक्षा परिषद की बैठक के दौरान उन्होंने बताया कि 2.2 मिलियन यमनी बच्चे कुपोषण का शिकार हैं और इसमें वर्ष 2015 की तुलना में 53 प्रतिशत की वृद्धि हुई है.

संयुक्त राष्ट्र संघ के मानवता प्रेमी सहायता केन्द्र के अधिकारी ने यमन पर सऊदी अरब के लंबे युद्ध के जारी रहने के कारण बच्चों को पहुंचने वाले कष्टों की ओर संकेत करते हुए कहा कि हर दस मिनट में एक यमनी बच्चा मौत के मुंह में जा रहा है.

उन्होंने कहा कि एक करोड़ चालीस लाख लोग अर्थात यमन की लगभग 80 प्रतिशत जनता को मानवता प्रेमी सहायता की आवश्यकता है और आधे से अधिक यमन नागरिकों को खाद्य संकट का सामना करना पड़ रहा है.