Home मिडिल ईस्ट सीरिया में तैनात की जाएँगी अमेरिकी सेना की दो कंपनियां

सीरिया में तैनात की जाएँगी अमेरिकी सेना की दो कंपनियां

एक अमेरिकी रक्षा अधिकारी ने बताया कि बग़दाद में आइएसआइएस से लोहा लेने वाले शीर्ष अमेरिकी कमांडर के आग्रह पर अमेरिकी सेना के 82वें एयरबोर्न डीवीजन की दो कंपनियों को ईराक के सीरिया (Syria) में सुरक्षा बढाने के लिए तैनात किया जा रहा है.

हालाँकि ये स्पष्ट नहीं हो पाया कि इन सैनिकों की वहां कब तक तैनाती रहेगी. इस विषय में फैसला आइएसआइएस के खिलाफ अमेरिका के गठबंधन वाले शीर्ष कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल स्टीफेन टाउनसेंड द्वारा किया जायेगा.

पेंटागन के कई अधिकारियों ने हाल ही के हफ़्तों में आई उन प्रेस रिपोर्टों को गलत ठहराया जिनमें कहा गया था कि 1,000 अतिरिक्त अमेरिकी सैनिकों को “आरक्षित बल” के रूप में कार्य करने के लिए कुवैत या सीरिया पर तैनात किया जाएगा. टाउनसेंड ने इस महीने की शुरुआत में पेंटागन के संवाददाताओं से हुई प्रेस ब्रीफिंग में कहा कि उन्हें बड़ी संख्या में गठबंधन सैनिकों के आने की उम्मीद नहीं है. क्योंकि जो काम वे कर रहे हैं, वो भी फलित हो रहा है.

और पढ़ें: मिस्र के राष्ट्रपति हुस्नी मुबारक इतने साल बाद जेल से हुए रिहा

अधिकारी ने कहा कि 82 वें एयरबोर्न डिवीजन से कुछ अतिरिक्त बलों को कयाराह एयरफील्ड वेस्ट, या “क्यू-वेस्ट” के रूप में भेजा जाएगा. अमेरिकी सेना ने ईराक के पुराने सैन्य अड्डों पर कब्ज़ा कर लिया है. वर्तमान में, अपाचे गनशिप और जीपीएस-निर्देशित रॉकेट सिस्टम, जिन्हें एचआईएमआरएस कहते हैं, वहीँ पर स्थापित हैं, मोसुल के लगभग 40 मील दक्षिण में इराक के दूसरे सबसे बड़े शहर के लिए चल रही लड़ाई का समर्थन करते हैं.

मोसुल से 15 मील की दूरी पर हम्माम-अल-अलील में एक अमेरिकी सेना आर्टिलरी भी हाल के महीनों में इराक के नेतृत्व वाले अभियान में पश्चिम मोसुल में सहायता कर रही है. मोसुल में आईएसआईएस के खिलाफ लड़ाई पांच महीनों से ज्यादा बढ़ गयी है. ईराक के प्रधानमंत्री अल-अब्दादी ने हाल ही में एक न्यूज़ चाननेल को दिए एक इंटरव्यू में कहा कि अगले कुछ ही हफ़्तों में आइएसआइएस पराजित हो जायेगा. उन्होंने कहा कि वे आइएसआइएस को सैन्य रूप से हरा रहे हैं.

सीरिया में हाल के दिनों में आइएसआइएस की राजधानी से लगभग 30 मील दूर स्थित रक्का में हाल ही के दिनों में एक अमेरिकी समुद्री आर्टिलरी अमेरिका के नेतृत्व वाले हवाई हमले का समर्थन कर रही है.

web title – two-companies-of-us-forces-will-be-deployed-in-syria

paragraph – An American defense official told that two companies of the US Army’s 82nd Airborne divison are being deployed to increase security in Iraq’s Syria at the urging of the top American commander to take the iron from ISIS in Baghdad.