Home मिडिल ईस्ट उर्दोगन को पहले से थी सैन्य विद्रोह की जानकारी

उर्दोगन को पहले से थी सैन्य विद्रोह की जानकारी

जमारान रिपोर्ट के अनुसार, विपक्षी नेता कमाल कलीचदार आओगलो ने दावा किया है कि: इस देश के राष्ट्रपति रजब तैय्यब उर्दोग़ान को 15 जुलाई के तख्तापलट की पहले से जानकारी थी।

इस रिपोर्ट के अनुसार कलीचदार आओगलो ने कहा है कि दस्तावेजों से पता चलता है कि 15 जुलाई को होने वाला तख्तापलट एक प्रायोजित घटना थी, जिसे स्वंय सरकार ने इसे होने दिया ताकि इससे लाभ उठाया जा सके।

कलीचदार आओगलो ने इस्तांबुल में रिपोर्टर से बातचीत में कहा, सरकार के 180 लोगों ने एक गुप्त कोडेड संदेश प्रणाली के अनुसार इस तख़्तापलट के रास्ते का चुनाव किया, जबकि खुफिया एजेंसियों के पास उन लोगों के नाम भी हैं।

उन्होंने कहा: यदि इस सूची को अभ भी सार्वजनिक नहीं किया गया तो इसका अर्थ यह होगा 15 जूलाई की घटना प्रायोजित थी और सरकार को इसके बारे में पहले से जानकारी थी।

उन्होंने कहा कि मैंने इस घटना के लिए एक विशेष फ़ाइल तैयार की है।