Home मिडिल ईस्ट वाशिंगटन पोस्ट ने ट्रम्प से शांति की उम्मीद लगाने वाले फिलिस्तीनियों को...

वाशिंगटन पोस्ट ने ट्रम्प से शांति की उम्मीद लगाने वाले फिलिस्तीनियों को किया आगाह

वाशिंगटन पोस्ट ने उन फ़िलिस्तीनियों की निंदा की है जो यह मानते हैं कि ट्रम्प ही अमरीका के वह अकेले राष्ट्रपति हैं जिनके कार्यकाल में मध्य पूर्व में शांति स्थापित हो सकती है।

इस समाचार पत्र ने अपने एक लेख में लिखा है कि मध्य पूर्व में ट्रम्प बल वास्तव में नेतनयाहू की सेना है। और अमरीका की वर्तमान सरकार की विचारधारा इस्राईल की उस कट्टरपंथी पार्टी की विचारधारा के अनुसार है जो फ़िलिस्तीन और इस्राईल के बीच शांति स्थापित किए जाने और एक स्वतंत्र फ़िलिस्तीनी देश के गठन का विरोध करती है।

समाचार पत्र आगे लिखता है कि फ़िलिस्तीनी हुकूमत के प्रमुख महमूद अब्बास ही वह इंसान हैं जिन्होंने इस्राईल और फ़िलिस्तीन के बीच शांति स्थापित किए जाने के लिए सहायता में वाशिंगटन की कोशिशों और भूमिका पर ट्रम्प से समझौता किया है।

एक सम्मानित अमरीकी-फ़िलिस्तीनी शख्सियत ने महमूद अब्बास और ट्रम्प की मुलाक़ात के बारे में कहाः इस मुलाक़ात से कुछ घंटे पहले तक हालात स्पष्ट नहीं थे, और जो चीज़ स्थिति को और अधिक अस्पष्ट कर रही थी वह अमरीकी उपराष्ट्रपति के माइक पेंस के अजीब बयान थे। उन्होंने ट्रम्प के साथ महमूद अब्बास की मुलाक़ात से एक रात पहले कहा था कि अमरीकी दूतावास को तेल अवीव से यरूशलेम स्थानांतरित किए जाने की परियोजना पर कार्य चल रहा है और बहुत संभव है कि निकट भविष्य में इसका कार्यान्वयन हो जाए।

अमरीकी मीडिया रिपोर्टों के अनुसार इस परियोजना की समीक्षा के अंतिम परिणामों के बारे में ट्रम्प इसी महीने घोषणा करेंगे।

ऐसा लगता है कि माइक पेंस का अमरीकी दूतावास को स्थानांतरिक किए जाने वाला बयान महमूद अब्बास के लिए एक प्रकार की चेतावनी हो और दूसरी तरफ़ उनका यह बयान नेतनयाहू के लिए सांत्वना हो। ऐसा लगता है कि वह अपने इस बयान से नेतनयाहू को यह बताना चाह रहे हैं कि ट्रम्प के फैसले इस्राईल के लिए कोई ख़तरा नहीं होगे।