Home मिडिल ईस्ट “हम ISIS के खिलाफ मुस्लमानो का एक स्टैंड चाहते हैं” :यज़ीदी उत्तरजीवी...

“हम ISIS के खिलाफ मुस्लमानो का एक स्टैंड चाहते हैं” :यज़ीदी उत्तरजीवी नदिया मुराद

नदिया मुराद, एक इराकी यज़ीदी महिला, जोकि आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट के चुंगल से भागने में कामयाब रही. नदिया को भी देश के अल्पसंख्यक समूह की इराकी औरतों की तरह ही सेक्स गुलाम के तौर पर अपहरण किया गया था.

अल-अरबिया न्यूज़ के साथ शुक्रवार को प्रसारित हुए एक इंटरव्यू के दौरान नदिया मुराद ने कहा कि, “हम चाहते हैं मुस्लमान एकजुट होकर आतंकियों खिलाफ हमारे साथ खड़े हो.”

उन्होंने कहा कि “इस्लामिक स्टेट के आतंकी दावा करते हैं कि वे मुस्लमान हैं इसलिए मुस्लमानो को इसके खिलाफ कड़े कदम उठाने चाहिए.” नदिया का कहना हैं कि चरमपंथी इस्लामिक स्टेट इस्लाम का प्रतिनिधित्व नहीं करता.

नदिया मुराद को इस्लामिक स्टेट ने अगस्त 2014 में अपहरण कर लिया था. जिसके तीन महीने बाद वह इनके चुंगल से भागने में कामयाब रही. जिसके बाद से वह लगातार इस्लामिक स्टेट ( IS ) की आतंकी गतिविधियों से पूरी दुनिया को उजागर करने की मुहीम चला रही हैं.

उन्होंने बताया “इस दौरान मैं दुनिया के कई शहरो में गयी जहा मैं देश के कई बड़े नेताओं से मिली हूँ, उनको अपनी आपबीती सुनाई और मेरे जैसी हज़ारो लड़कियों पर हो रहे अत्याचार के बारे में सूचना दी.”

नदिया ने बताया कि “उत्तरी इराकी शहर सिंजर का लघभग ६० फ़ीसदी भाग इस्लामिक स्टेट के चुंगल से आज़ाद करा लिया गया हैं, जहा पर यज़ीदी समुदाय के लोग बरसो से रह रहे हैं. हालाँकि अभी तक ज़्यादातर यज़ीदी महिलाये वापस नहीं आ सकी हैं.”

आखिर में नदिया ने अल-अरबिया न्यूज़ के सवालो का जवाब देते हुए कहा कि, “जब मैं मिस्र और कुवैत गयी तो वह मैंने जो इस्लाम देखा वो इस्लामिक स्टेट के धर्म से पूरी तरह से अलग था. वह पर मुस्लमान अपनी जानो की परवाह किये बिना यज़ीदी महिलाओ की जान बचाते देखा.”