Home मिडिल ईस्ट जब इजराइल के खिलाफ गोल होने पर इटली के गोलकीपर ने नारा...

जब इजराइल के खिलाफ गोल होने पर इटली के गोलकीपर ने नारा लगाया.. ‘फिलिस्तीन जिंदाबाद’

फुटबॉल का वर्ल्ड कप चल रहा हो और पूरी दुनिया टकटकी लगाये मैच देख रही हो. एक तरफ इटली की टीम हो और दूसरी तरफ इजराइल की. इटली की तरफ से गोल किया जाये तो टीम का गोलकीपर नारा लगाये ..’फ़िलिस्तीन ज़िन्दाबाद फ़िलिस्तीन ज़िन्दाबाद’ .. तो कुछ देर के लिए सोचिये की उस नारे के कितना असर पडा होगा. दुनियाभर के लोगो के सामने इजराइल की हकीकत खुलकर सामने आ गयी होगी.

इटली की राष्ट्रीय फ़ुटबॉल टीम के गोलकीपर जियान लोइजी बोफ़ोन पर फ़िलिस्तीन का समर्थन करने के कारण अंतर्राष्ट्रीय फ़ुटबॉल संघ फ़ीफ़ा की ओर से जुर्माना लगने की संभावना बढ़ गयी है।

दुनिया के बेहतरीन गोलकीपर का ख़िताब पा चुके जियान बोफ़ोन ने इटली और इस्राईल के बीच फ़ुटबॉल विश्व कप के एक लीग मैच में, जब इटली ने पहला गोल मारा तो ‘फ़िलिस्तीन ज़िन्दाबाद फ़िलिस्तीन ज़िन्दाबाद’ के नारे लगाए। बोफ़ोन के इस नारे से ज़ायोनी शासन क्रोधित है। इस मैच में इटली ने ज़ायोनी शासन को 3-1 से हराया। अब इस प्रकार के समाचार हैं कि ज़ायोनी लाॅबी के दबाव में फ़ीफ़ा इटली के इस गोलकीपर पर जुर्माना लगा सकता है।

दूसरी ओर नेदरलैंड के एक सांसद ने फ़िलिस्तनियों के साथ ज़ायोनियों के व्यवहार पर एतराज़ जताते हुए ज़ायोनी प्रधान मंत्री बिनयामिन नेतनयाहू से हाथ मिलाने से इन्कार कर दिया। नेदरलैंड के इस सांसद के इस क़दम को मीडिया में व्यापक कवरेज दिया गया है। नेतनयाहू बुधवार को नेदरलैंड के दौरे पर पहुंचे थे। उन्होंने जब नेदरलैंड के सांसद तुनाहन कूज़ू की ओर हाथ बढ़ाया तो उन्होंने उनसे हाथ मिलाने से इन्कार कर दिया। उनके इस क़दम से नेतनयाहू खिसिया गए। कूज़ू ने नेतनयाहू से हाथ न मिलाने के अलावा अपने कोट पर ऐसा बैज लगा रखा था जिस पर फ़िलिस्तीनी झंडा बना हुआ था।