SOURCE-KHALEEJ TIMES

अमीरात- भारत के संबंधो को इतने करीब से कभी नहीं देखा होगा, अमीरात-भारत के रिश्ते दिन प्रतिदिन मजबूत होते जा रहे हैं. ज़ायेद वर्ष में संयुक्त अरब अमीरात के लोग महात्मा गाँधी की प्रतिमा देखेंगे. महात्मा गाँधी जिन्हें भारत में ‘राष्ट्रपिता’ का दर्जा दिया जाता है. महात्मा गाँधी जी की प्रतिमा गुरुवार को इंडियन सोशल एंड कल्चरल सेंटर में स्थापित की जायेगी.

आईएससी के कार्यवाहक अध्यक्ष जयचंद्रन नायर ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा की “आईएससी में इस प्रतिमा को लगाने से, हम महात्मा गाँधी को संयुक्त अरब अमीरात में एक अनन्त घर दे रहे हैं.” जहां उन्ही प्रतिमा स्थापित की जायेगी, वह हमारे लिए ऐसा ही होगा की हमने उन्हें अमीरात में एक घर के अंदर रखा है.”

उन्होंने कहा, “यह मूर्ति भारत और संयुक्त अरब अमीरात के बीच विशेष दोस्ती पर और ज्यादा प्रभाव डालेगी.” इस प्रतिमा के स्थापित होने से दोनों के रिश्तो की मजबूती देखी जा सकती है.

खलीज टाइम्स के अनुसार, वीटीवी दामोदरन, गांधी साहित्य वेदी अध्यक्ष, ने इस परियोजना का प्रभार संभाला था.

उन्होंने कहा की “यह मेरी इच्छा थी, आईएससी के पूर्व साहित्यिक सचिव जयदेवन आर.वी. भी इस सपने को साकार करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे थे, यह पहली बार है कि गांधी जी की प्रतिमा को खाड़ी देश में स्थापित किया जा रहा है, यह एक ऐतिहासिक क्षण है.”

सुधीर कुमार, कम्युनिटी लीडर ने कहा की “यह एक अच्छा पल है की हम ज़ायेद वर्ष के रूप में 2018 का जश्न मना रहे हैं, इस मूर्ति को स्थापित करने के लिए बेहतर अवसर इससे ज्यादा क्या होगा?, भारतीय दूतावास यहां इस प्रतिमा को पूरा करने के लिए पूर्ण समर्थन प्रदान कर रही है.” चितरान कुन्हामंगलम द्वारा बनाई गई मूर्ति का निर्माण छह महीने में हुआ है.

कुन्हामंगलम ने कहा, “यह पहली बार है कि मेरा कोई भी काम भारत से बाहर ले जाया जा रहा है, आज तक हमेशा मैंने भारत के अंदर ही मूर्तियों का निर्माण किया है, जिन्हें यहीं स्थापित किया गया है.” गुरुवार को आईएससी रिसेप्शन पर स्थापना समारोह को चिह्नित करने के लिए एक छोटा सा कार्यक्रम भी आयोजित किया गया है.

न्यूज़ अरेबिया एकमात्र न्यूज़ पोर्टल है जो अरब देशों में रह रहे भारतीयों से सम्बंधित हर एक खबर आप तक पहुंचाता है इसे अधिक बेहतर बनाने के लिए डोनेट करें
डोनेशन देने से पहले इस link पर क्लिक करके पढ़ें Click Here

वर्ल्ड न्यूज़ अरेबिया का यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें :-


आज की पसंदीदा ख़बरें
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here